नई दिल्ली. दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण का स्तर बेहद खतरनाक हो चुका है. दिवाली के दिन तो कई इलाकों में एयर क्वालिटी इंडेक्स 1 हजार कूद गया. ऐसे में दिल्ली सरकार ने संकेत दिए हैं कि राजधानी में ऑड-ईवन स्कीम लागू की जा सकती है. दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार में परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने इस मामले में कहा है कि दिल्ली में खराब प्रदूषण स्तर बढ़ता जा रहा है, जरूरत पड़ने पर सरकार ऑड-ईवन लागू कर सकती है.

गौरतलब है कि दिल्ली के परिवहन विभाग ने गुरुवार रात 11 बजे से ईपीसीए की सिफारिश पर अलगे तीन दिनों तक भारी वाहन ट्रकों कगे प्रवेश पर रोक लगा दी है. सिर्फ जरूरी वस्तु लेकर जा रहे ट्रकों को शहर में घुसने की अनुमति दी जाएगी. खतरनाक होते जा रहे वायु प्रदूषण की चिंता करते हुए दिल्ली सरकार ने यह फैसला लिया है. ऐसे में कहा जा रहा है कि दिल्ली में ट्रकों की एंट्री बंद होने पर राजधानी से सटे दूसरे राज्य के बॉर्डर जैसे गुरुग्राम, करनाल बाईपास और गाजियाबाद  समेत कई जगहों पर लंबे जाम की स्थति बन सकती है.  

बता दें कि  दिल्ली की इस हालत को देखते हुए बुधवार दोपहर 1 बजे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक आपातकालीन बैठक भी बुलाई थी. बैठक में सीएम अरविंद केजरीवाल, पर्यावरण सचिव, एमसीडी और डीडीए के अधिकारी शामिल रहें. बता दें कि दिवाली के बाद दिल्ली की हवा जहरीली हो गई है. शहरवासियों को बिना जरूरी काम के घर से बाहर ना निकलने की सलाह दी गई है. लोगों को खराब प्रदूषण के चलते सेहत से संबंधित परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले को ताक पर रखते हुए दिवाली पर लोगों ने खूब पटाखे फोड़े जिससे वायु प्रदूषण का स्तर और अधिक गिर गया है.

Air pollution Increased in Delhi-NCR: पटाखों ने दिल्ली में फैलाया इतना प्रदूषण कि पीएम 10 और पीएम 2.5 मापने वाली मशीन 999 पर अटक गई

Delhi Diwali Air Pollution, Quality, Smog AQI Highlights: दिवाली के अगले दिन घुटा दिल्ली-एनसीआर का दम, प्रदूषण जानलेवा स्तर पर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App