नई दिल्ली/ कोरोना वायरस का खतरा एक बार फिर बढ़ता नजर आ रहा है. कई राज्यों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे है और कोरोना के नए स्ट्रेन से भी सरकारें चिंता में हैं. इसी को देखते हुए अब दिल्ली सरकार ने ऐहतिहात कदम उठाना शुरू कर दिया है. दिल्ली सरकार ने कदम उठाया कि दिल्ली मे एंट्री पाने के लिए पांच राज्यों से आने वाले लोगों को अपनी कोरोना नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट पेश करनी होगी. इन राज्यों में महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और पंजाब शामिल हैं.

दिल्ली सरकार ने फैसला लिया कि महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और पंजाब से दिल्ली आने वालों को RT-PCR की निगेटिव रिपोर्ट पेश करना जरूरी होगा. यह रिपोर्ट 72 घंटे से ज्यादा पुरानी नहीं होनी चाहिए. यह आदेश 26 फरवरी शुक्रवार की आधी रात से लेकर 15 मार्च दोपहर 12:00 बजे तक लागू रहेगा. दरअसल बीते करीब एक सप्ताह में सामने आए कोरोना के कुल मामलों में से 86 से ज्यादा केस इन्हीं राज्यों से सामने आए हैं.

बता दें कि महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने पिछले दिनों बताया था कि सूबे में अगले 8 दिन बहुत अहम रहने वाले हैं. यदि मामले इसी तरह से बढ़ते रहे तो फिर पूरे राज्य में ही लॉकडाउन वापस आ सकता है. उन्होंने कहा कि यह आम लोगों पर ही है कि वे सावधानी बरतें और लॉकडाउन जैसी स्थिति से बचें.

गौरतलब है कि देश में कोरोना के कुल केसों के 75% केस केरल और महाराष्ट्र में ही सामने आए हैं और पिछले कुछ दिनों में यहां कोरोना के केसों में काफी वृद्धि देखने को मिली है.

Covid-19 Latest News: देश में फिर लौटा कोरोना का खतरा, 17 दिन बाद डेढ़ लाख पार कोरोना एक्टिव केस

Corona Outbreak In Maharashtra: महाराष्ट्र में कोरोना का विस्फोट, अमरावती समेत 5 जिलों में लगा आंशिक लॉकडाउन