Thursday, August 11, 2022

दिल्ली में फिर बढ़ी कोरोना की रफ़्तार, 1934 नए मामले

नई दिल्ली, आज एक बार फिर दिल्ली में कोरोना मामलों में उछाल देखा गया है. राजधानी में बीते 24 घंटों में 2000 के करीब मामले दर्ज़ किए गए. आज राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना के 1934 नए मामले दर्ज़ किये गए हैं. वहीं अब कोरोना की रफ़्तार भी तेज हो गई है. कल के मुकाबले संक्रमण दर में आज अधिक उछाल देखा गया है. दिल्ली में अब पॉजिटिविटी रेट बढ़कर 8.10% हो गई है. जहां सक्रीय मामलों की बात करें तो इस समय राजधानी में कोरोना के कुल 5,755 सक्रिय मामले हैं. वहीं इस दौरान 1 मरीज की मृत्यु भी हुई है.

2000 से अधिक कोरोना के मामले

गुरुवार को करीब 2000 केस दिल्ली में पाए गए हैं. यह चिंता का विषय है. बता दें, बीते दिन दिल्ली में केसेस की संख्या कम हो गई थी. इस बीच 1233 मरीजों ने कोरोना को मात दी है यानी कोरोना से ठीक हुए हैं. बता दें, बीते 24 घंटों में दिल्ली में कुल 23879 कोरोना टेस्ट किए गए हैं. वहीं अब दिल्ली में कंटोनमेंट जोन की संख्या कुल 309 हो गई है. कोरोना की रफ़्तार एक बार फिर दिल्ली में डरा रही है. जहां कल यानी बुधवार को दिल्ली में लगातार आठ दिनों से एक हज़ार के पार कोरोना मामलों के बाद हजार से कम मामले देखे गए थे.

बूस्टर डोज पर विशेष ध्यान

आईसीएमआर और भारत बायोटेक के अध्ययन में विशेषज्ञों का कहना है कि कोवैक्सीन की बूस्टर खुराक कोरोना वायरस के डेल्टा स्वरूप के खिलाफ टीके का प्रभाव बढ़ाती है। अध्ययन में कहा गया है कि सीरियन हैमस्टर मॉडल (मनुष्य से जुड़ी बीमारियों का अध्ययन करने वाले पशु मॉडल) में डेल्टा स्वरूप के खिलाफ टीकाकरण की दो-तीन खुराक के बाद भारत बायोटेक के कोवैक्सीन से मिलने वाली सुरक्षात्मक क्षमता तथा ओमीक्रोन के स्वरूपों के खिलाफ इसके प्रभाव का अध्ययन किया गया। इस अध्ययन के नतीजे पिछलें दिनो बायोआरक्सिव में प्रकाशित हुए।

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news