हिसारः हरियाणा के हिसार में रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने ‘हरियाणा बचाओ रैली’ की थी. रैली में काफी संख्या में लोग भी पहुंचे थे. रैली के बाद के अब कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं. वीडियो में कुछ लोग आम आदमी पार्टी की टी-शर्ट और टोपी पहने हुए दिखाई दे रहे हैं, जो खुद को दिहाड़ी मजदूर बता रहे हैं. मजदूरों ने बताया कि उनको बहादुरगढ़ से हिसार 350 रुपये की दिहाड़ी का लालच देकर यहां लाया गया था.

एक के बाद एक कई मजदूरों के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं. एक वीडियो में खुद को मजदूर बताने वाला शख्स कहता है, ‘हमें 350 रुपये दिहाड़ी और नाश्ता-खाना देने की बात कहकर बहादुरगढ़ मंडी से यहां लाया गया. हम पेशे से मजदूर हैं. पैसे देने के नाम पर कह रहे हैं कि पैसे अभी आ रहे हैं. कभी कह रहे हैं कि पैसे नहीं हैं. एक घंटे से ऊपर हो गया लेकिन हमें अभी तक पैसे नहीं मिले हैं. हमें खाना और चाय-नाश्ता भी नहीं मिला. हमारे साथ 10 से ज्यादा महिलाएं हैं.’

एक अन्य वीडियो में भी कई मजदूर यही बात कहते नजर आ रहे हैं. मजदूरों का कहना है कि उनको यहां लाने वाले लोग अब अगले दिन पेमेंट लेकर जाने के लिए कह रहे हैं. वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर लोग आप संयोजक अरविंद केजरीवाल पर चुटकी ले रहे हैं. दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता और विधायक कपिल मिश्रा ने भी सोमवार को एक वीडियो ट्वीट करते हुए कैप्शन लिखा, ‘केजरीवाल की हरियाणा रैली, रैली खत्म-पैसा हजम.’

दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिंद ने इस वीडियो को बीजेपी की साजिश करार दिया. उन्होंने कहा कि बीजेपी अमित शाह की रैली में लोगों को 1 हजार रुपये देकर बुलाती है फिर भी लोग नहीं आते, हमारी रैली में 350 रुपये देकर लोग क्यों आएंगे. कुछ लोगों को AAP की टी-शर्ट और टोपी पहनाकर यह वीडियो बनाए गए हैं. यह सरासर फर्जी वीडियो हैं. नवीन जयहिंद ने इसे स्थानीय बीजेपी विधायक का प्रोपेगेंडा बताया.

बताते चलें कि अगले साल अक्टूबर-नवंबर के आसपास हरियाणा में विधानसभा चुनाव होंगे. रविवार को आयोजित रैली में अरविंद केजरीवाल ने हरियाणा में सभी सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया. उन्होंने कहा कि जब तक हरियाणा में बीजेपी सत्ता से बाहर नहीं होती तब तक वह संघर्ष जारी रखेंगे. केजरीवाल ने कहा कि बीजेपी देश में दंगे करवाने वाली पार्टी है. बीजेपी और कांग्रेस ने वोट बैंक की राजनीति के लिए हरियाणा में जाटों और गैर जाटों के बीच दंगे करवाए. केजरीवाल ने आरोप लगाया कि पिछले तीन साल में हरियाणा में जातिवाद के नाम पर जमकर हिंसा हुई है.

हरियाणा बचाओ रैली में बोले अरविंद केजरीवाल- दिल्ली जैसी ऐतिहासिक सफलता यहां भी दोहराएंगे

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर