July 23, 2024
  • होम
  • UP में 'पुलिस कस्टडी में मौत, मचा हंगामा, परिवार वालों ने जाम किया हाईवे

UP में 'पुलिस कस्टडी में मौत, मचा हंगामा, परिवार वालों ने जाम किया हाईवे

  • WRITTEN BY: Vaibhav Mishra
  • LAST UPDATED : April 14, 2024, 6:12 pm IST

लखनऊ: आपने शायद ही कभी सुना होगा कि पुलिस के कस्टडी में मुजरिम की मौत हो गई. जी हां आज हम आपके लिए एक इसी तरह की स्टोरी लेकर आए हैं, जिसे पढ़ने के बाद आपके होश उड़ जाएंगे. दरअसल ये मामला यूपी से है. जहां पुलिस की हिरासत में एक आरोपी की मौत का मामला सामने आया है. वहीं मृतक के परिवार वाले पुलिस पर हत्या करने का आरोप लगा रहे हैं. उनका कहना है कि पुलिस टॉर्चर के वजह से उस व्यक्ति की जान चली गई. वहीं पुलिस ने पांच साल की बच्ची की हत्या करने के मामले में आरोपी को गिरफ्तार किया था.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह घटना लखीमपुर जिले के मितौली की बताई जा रही है. 12 अप्रैल की रात पकरिया जलालपुर गांव के रहने वाले 50 वर्षीय आसाराम की पुलिस कस्टडी में ही मौत हो गई. परिवार का आरोप है कि आसाराम को पुलिस ने बुरी तरह से पीटा है और उन्हें बिजली के झटके भी दिए गए है. जिस वजह से उसकी मौत हो गई.

हाईवे पर लगा जाम

13 अप्रैल की सुबह परिवार वालों ने शव को लखीमपुर-मैगलगंज हाईवे पर रख दिया. जिस वजह से हाईवे पर जाम लग गया. हालांकि खीरी सर्कल अधिकारी शमशेर सिंह ने बताया कि परिवार वालों को काफी समझाकर रास्ता को खुलवाया गया, लेकिन वो मानने को तैयार नहीं थे. उन्हें सड़क के किनारे बैठकर अपना विरोध जारी रखा

पुलिस ने क्या बताया?

आसाराम की मौत को लेकर पुलिस ने कहा कि शुक्रवार 12 मार्च को आसाराम को पुलिस लाया गया था. कुछ देर के बाद आसाराम ने पेट में दर्द होने की शिकायत की. इसके तुरंत बाद उसे अस्पताल ले जाया गया. जहां डॉक्टर ने उसे मृत बता दिया. घटना के बारे में पुलिस ने आगे बताया कि 3 अप्रैल को मितौली थाना इलाके के पकरिया जलालपुर गांव से लड़की के गुमशुदा होने की शिकायत मिली थी. वहीं कुछ देर बाद लड़की के घर से करीब 150 मीटर की दूरी पर शव को बरामद किया गया.

जब लड़की की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आई तो पता चला कि उसकी मौत दम घुटने की वजह से हुई थी. हालांकि लड़की की मौत को लेकर उसके परिवार वालों ने पुलिस में हत्या करने की शिकायत भी दर्ज कराई थी. दरअसल, शिकायत में परिवार वालों ने हत्या करने का आरोप आसाराम पर लगाया था. जिसके बाद आसाराम को गिरफ्तार कर लिया गया था.

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन