नई दिल्ली. बीते दिन चक्रवात गुलाब ( Cyclone Gulaab ) का कहर भारत के कई राज्यों में देखने को मिला. अब यह चक्रवात गुज़र चूका है, लेकिन इसका असर अभी भी कुछ राज्यों में देखने को मिल रहा है. मॉनसून की ट्रफ रेखा जैसलमेर, कोटा, सागर, गहरे दबाव के केंद्र और फिर पूर्व की ओर बंगाल की पूर्वी मध्य खाड़ी से गुजर रही है. चक्रवाती हवाओं का केंद्र पूर्व मध्य और म्यांमार तट से सटे उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना हुआ है. इसकी वजह से देश के कई राज्यों में अगले 2-3 दिन भारी बारिश होने की संभावना है.

इन राज्यों में बारिश का अलर्ट 

कई दिनों से देश के अलग-अलग राज्यों में बादल कहर बनकर बरस रहे हैं. दिल्ली समेत अन्य राज्यों में मूसलाधार बारिश हो रही है. फिलहाल तो दिल्ली और उत्तरी भारी में में बारिश रुकी हुई है लेकिन मौसम विभाग ने आने वाले दिनों के लिए दिल्ली समेत अन्य राज्यों के लिए भारी बारिश की आशंका जाहिर की है.

बीते दिन चक्रवात गुलाब बंगाल और ओडिसा के तट के गुज़रा, इससे अब तक किसी के क्षतिग्रस्त होने की खबर नहीं है. इसपर ओडिशा के विशेष राहत आयुक्त प्रदीप कुमार जेना ने बताया कि “अगले 2-3 घंटे में चक्रवात गुलाब के ओडिशा की सीमाओं से बाहर होने की उम्मीद है, बहुत ज़्यादा बारिश नहीं हुई है. किसी के घायल होने या किसी नुकसान की कोई सूचना नहीं है.”

बता दें कि चक्रवात गुलाब के चलते मध्य प्रदेश और उसके आस-पास के इलाकों में बारिश हो रही है. मौसम विभाग के मुताबिक तेलंगाना, दक्षिण छत्तीसगढ़, विदर्भ, मराठवाड़ा, उत्तरी मध्य महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा, गुजरात, तटीय आंध्र प्रदेश, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हलकी से माध्यम बारिश होने की संभावना है.

 

यह भी पढ़ें :

Neeraj Chopra Dance : हरियाणवी गाने पर थिरके गोल्डन बॉय नीरज चोपड़ा, सोशल मीडिया पर डांस हुआ वायरल

Maruti S-Presso Std हैचबैक खरीदने का है मन तो जान लीजिए फीचर्स, इंजन, कीमत से लेकर सारी जानकारी

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर