नई दिल्ली/ देश में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है। रोजाना कोरोना मामलों में वृद्धि दर्ज होती जा रही है और मौतों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। कोरोना की दूसरी लहर तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले रही है, खतरनाक तरीके से संक्रमण फेला रही है। अस्पतालों में बेड खत्म होते जा रहे है, मरीज ऑक्सीजन की कमी से अपनी जान गवां रहे है और अस्पतालों में दवाईयां भी मौजूद नही है। इन समस्याओं से मरीजों को जूझना पड़ रहा है।

इसी बीच दिल्ली की ग्रीन पार्क की मस्जिद ने मानवता की मिसाल पेश की है। अस्पताल में बेड्स की कमी देखते हुए ग्रीन पार्क की मस्जिद को कोविड सेंटर ने तब्दील कर दिया गया है। मस्जिद में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 4o बेड्स लगाएं गए है। ट्रस्टी ने न्यूज कहा कि यह रमजान का पवित्र महीना है और इस महीने में हम पैगंबर मोहम्मद की सभी बातों का खास तौर से पालन करते हैं। पैगंबर मोहम्मद का कहना था कि हमें जरूरतमंदों की हमेशा मदद करनी चाहिए।

ग्रीन पार्क मस्जिद के कुछ लोगो ने बताया कि बीते कुछ दिनों से कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना के मामलों ने और किसी को हिलाकर रख दिया है। इसकी वजह से अस्पताल में ऑक्सीजन और बेड की कमी हो रही है। इसे देखते हुए हमने यह तय किया है कि मस्जिद को कोरोना संक्रमण से इलाज के लिए इस्तेमाल में लाया जाए। इस वक्त यहां 40 बेड का इंतजाम किया गया है। जल्द ही बेड्स बढ़ाने की कोशिश जारी है।

राजधानी दिल्ली में गुरुवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 24 हजार 235 नए मामले सामने आने के साथ ही दिल्ली में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 11 लाख 22 हजार 286 तक पहुंच गई। शहर में संक्रमण की दर 32.82 दर्ज की गई। स्वास्थ्य विभाग के के मुताबिक, दिल्ली में गुरुवार को कोरोना के 395 मरीजों की मौत हो गई जो कि पिछले साल महामारी की शुरुआत के बाद से एक दिन की सर्वाधिक संख्या है। शहर में अब तक 15 हजार 772 लोग इस घातक वायरस के कारण जान गंवा चुके हैं।

Corona Vaccination: कल वैक्सिनेशन के लिए न जाएं, अभी हमारे पास वैक्सीन नहीं है: अरविंद केजरीवाल

Corona Vaccination: जानिए कोरोना की वैक्सीन लगवाने से पहले आपको क्यों करना चाहिए रक्तदान?

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर