नई दिल्ली. कोरोना से बिगड़ते हालात और दम तोड़ती जिंदगियों के बीच कुछ ऐसे लीचड़ लोग भी हैं जिन्हें मजाक-मस्ती सूझ रही है. मन में जो भी गंध आया उसे मैसेज में लिखा और व्हाट्सएप ग्रुप पर फैला दिया. ऐसा ही एक फेक न्यूज व्हाट्सएप पर तेजी से वायरल हो रहा है. जिसमें दावा किया गया है कि दिल्ली में किसी को प्लाजमा की जरूरत है तो नीचे दिए गए नंबरों पर संपर्क करें. आगे लिखा है कि ये लोग बिना पैसे लिए आपको प्लाजमा मुहैया करवा देंगे. एक नंबर मोनिका भगत के नाम से है और दूसरा नंबर एनजीओ लिखकर डाला गया.

इनखबर ने जब इन नंबरों पर फोन कर सच जानने की कोशिश की तो पता चला कि ये किसी महिला का नंबर है जिन्हें हर रोज हजारों फोन आते हैं. लोग रोते हैं, गिड़गिड़ाते हुए अपने किसी परिजन के लिए प्लाजमा मांगते हैं लेकिन ना तो वो महिला किसी एनजीओ से हैं ना ही प्लाजमा मुहैया कराने वाली किसी संस्था या संगठन से ताल्लुक रखती हैं. इतने फोन आते हैं कि दिनभर फोन बजता ही रहता है. महिला ने बताया कि दस अप्रैल से उन्हें फोन आ रहे हैं. हर रोज हजारों संख्या में लोग फोन करते हैं और प्लाजमा मांगते हैं और उन्हें बताना पड़ता है कि किसी ने सोशल मीडिया और व्हाट्सएप पर गलत खबर डाली है.

Corona Fake News Alert

महिला का कहना है कि वो साइबर सेल में भी शिकायत कर चुकी हैं लेकिन उनके पास फोन आने का सिलसिला लगातार जारी है. हम जानते हैं कि व्हाट्सएप या सोशल मीडिया पर मिलने वाली जानकारियां सच नहीं होती. फेक न्यूज मार्केट में तेजी से फैलता है इसलिए ये आपकी जिम्मेदारी है कि आप किसी भी खबर की जांच पड़ताल किए बिना उसे फॉरवर्ड ना करें, खास तौर पर व्हाट्सएप पर फेक न्यूज की भरमार है इसलिए व्हाट्सएप पर मिलने वाली खबर को फॉरवर्ड करने से पहले ये सुनिश्चित कर लें कि ये खबर तथ्यात्मक तौर पर सही है या नहीं.

UP CM Yogi Adityanath Corona Positive : उत्तर प्रदेश सीएम कोरोना पॅाजिटिव, खुद किया सेल्फ आइसोलेट

Baghpat Corona Update : बागपत में वृद्ध को प्रशासन ने कोरोना का टीका लगाने की जगह लगाया कुत्तों के काटने वाला टीका, यूपी में भी घट चुकी है इस तरह की घटना

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर