पटनाः CM Nitish Kumar Scolded Bihar Police Inspector Martyr in Encounter: बिहार की कानून व्यवस्था को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नाराज चल रहे हैं. इसकी एक बानगी तब देखने को मिली जब शुक्रवार को लगभग 325 करोड़ रुपये की लागत से बनाए गए नए पुलिस मुख्यालय के उद्घाटन पर नीतीश कुमार ने डीजीपी के.एस. द्विवेदी समेत पुलिस के आला अधिकारियों को खूब खरी-खोटी सुनाई. सीएम ने पुलिस वालों को नसीहत देते हुए कहा, ‘जनता की सुरक्षा भगवान भरोसे या अपराधियों पर छोड़ दी जाए, ये ठीक नहीं है.’ सीएम के इस बयान के महज कुछ घंटों बाद खगड़िया और भागलपुर के बीच दुर्गम दियारा क्षेत्र में दारोगा आशीष कुमार पुलिस और बदमाशों के बीच हो रही मुठभेड़ में शहीद हो गए.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, नए पुलिस मुख्यालय का उद्घाटन करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने पुलिस के आला अधिकारियों से कहा, ‘जब सरकार आपकी रक्षा पर इतना ध्यान देती है तो आप जनता की सुरक्षा को भगवान भरोसे या बदमाशों के भरोसे मत छोड़िए. जनता आपसे सुरक्षा की अपेक्षा रखती है तो आपका फर्ज है उनकी उम्मीदों पर खरे उतरना.’ मुख्यमंत्री के ऐसा कहते ही पुलिस अधिकारी बगलें झांकने लगे. इस दौरान नीतीश कुमार ने शराबबंदी कानून में पुलिसकर्मियों की लापरवाही पर भी नाराजगी जाहिर की.

बताते चलें कि शुक्रवार को सीएम नीतीश कुमार ने पुलिस को फटकार लगाई तो शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात दारोगा आशीष कुमार की शहादत की खबर आई. बताया जा रहा है कि आशीष को वांटेड बदमाश दिनेश मुनि और उसके साथियों के इलाके में होने की गुप्त सूचना मिली थी. आशीष चार सिपाहियों को लेकर बदमाशों को दबोचने के लिए निकल पड़े. पुलिस को वहां देख बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी. आशीष ने जवाबी फायरिंग में एक बदमाश को ढेर कर दिया. जैसे ही वह आगे बढ़े घात लगाकर बैठे बदमाशों ने आशीष पर ताबड़तोड़ गोलियां चला दीं. आशीष को पांच गोलियां लगीं और उन्होंने मौके पर ही दम तोड़ दिया. फरार अपराधियों की तलाश में पुलिस दबिश दे रही है.

Slipper Thrown at Nitish Kumar: बिहार में सभा के दौरान एक शख्स ने नीतीश कुमार पर फेंकी चप्पल, आरोपी गिरफ्तार

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App