Tuesday, November 29, 2022

झारखंड विधानसभा में पत्रकार और सुरक्षा कर्मियों के बीच झड़प, बीजेपी नेता ने कहा डर गए है सोरेन

रांची। झारखंड विधानसभा परिसर में पत्रकारों और सुरक्षा कर्मियों के बीच धक्का-मुक्की की दुर्भाग्यपूर्ण बात सामने निकल कर आई हैं। घटना सोमवार को विधानसभा के विशेष सत्र से ठीक पहले की है।

पत्रकारों और सुरक्षा कर्मियों के बीच झड़प

पत्रकारों और सुरक्षा कर्मियों के बीच झड़प विधानसभा हॉल के सामने हुआ। जब पत्रकार रिर्पोटिंग के लिए अंदर जाने की कोशिश की, तब सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें बाहर कर दिया। पत्रकार और कैमरामैन द्वारा आवश्यक पास दिखाने के बावजूद उन्हें विधानसभा में जाने नहीं दिया गया।

बीजेपी नेता ने घटना को बताया निंदनीय

अब इस मामले को लेकर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता बाबूलाल मरांडी ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री और उनकी टीम पत्रकारों से डरी हुई है। बाबूलाल मरांडी ने ट्वीट कर बताया कि, ”आज झारखंड विधानसभा में मीडियाकर्मियों के साथ पुलिस, सुरक्षाकर्मियों ने जिस तरह का दुर्व्यवहार, धक्का-मुक्की की है, उसकी हम घोर निंदा करते हैं। लगता है कि अपने कारनामों से लगातार देश-विदेश में उजागर हो रहे मुख्यमंत्री सोरेन की टीम पत्रकारों से भी डरी हुई है।’

अधिकारियों ने घटना से किया इंकार

आपको बता दें कि इस मामले पर विधानसभा के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आरोपों को निराधार बताते हुए कहा कि वैध पास रखने वाले लोगों को सदन में प्रवेश करने में दिक्कत नहीं आई। उन्होंने आगे बताते हुए कहा कि हमने पिछले सत्र के पास वाले पत्रकारों को अनुमति दी है। जिसमें प्रवेश के नियमों का स्पष्ट उल्लेख है।

पत्रकारों के अनुसार पास को लेकर नोटिस नहीं

झारखंड विधानसभा की ओर से विशेष सत्र के लिए पत्रकारों को कोई पास जारी नहीं किया गया है जिसमें मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने विश्वास मत रखा था। पत्रकारों ने कहा कि पास को लेकर विधानसभा से कोई सूचना जारी नहीं मिली थी।

Cyrus Mistry: सीट बेल्ट नहीं लगाने की वजह से हुई साइरस मिस्त्री की मौत? जानें एक्सिडेंट की बड़ी बातें

Latest news