लखनऊ: छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) ने छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के साथ गठबंधन का एेलान किया है. बीएसपी 35 सीटों और जनता कांग्रेस 55 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने गुरुवार को इसका एेलान किया. मायावती ने कहा कि अगर हमारी जीत हुई तो अजीत जोगी मुख्यमंत्री होंगे. यह बीजेपी के खिलाफ आगामी लोकसभा चुनावों को देखते हुए महागठबंधन के लिए बहुत बड़ा झटका माना जा रहा है. पहले कयास लगाए जा रहे थे कि मायावती कांग्रेस के साथ छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव लड़ सकती हैं. 

वहीं अजीत जोगी ने कहा, ”बीजेपी छत्तीसगढ़ में पिछले 15 वर्षों से सत्ता में है. सत्ता का दुरुपयोग, पैसे का दुरुपयोग, प्रशासनिक तंत्र का दुरुपयोग करके वो फिर से सत्ता में आना चाहती है. अब हमारा गठबंधन हो गया है. मायावती और हम लोग मिलकर उनको जरूर रोक लेंगे”. मिजोरम, राजस्थान, मध्य प्रदेश और तेलंगाना के अलावा छत्तीसगढ़ में इस साल के आखिर में 91 विधानसभा सीटों पर चुनाव होंगे.

पिछले दिनों खबर आई थी कि मायावती ने छत्तीसगढ़ की जिताऊ विधानसभा सीटों का गुप्त सर्वे कराना शुरू कर दिया है. बसपा के प्रदेश अध्यक्ष ओ.पी. बाजपेयी ने कहा था कि पार्टी सुप्रीमो छत्तीसगढ़ में चुनाव को लेकर खुद नजर रख रही हैं. उन्होंने कहा था कि छत्तीसगढ़ की हर सीट पर बसपा मजबूती से चुनाव लड़ेगी.

सूत्रों ने कहा था कि छत्तीसगढ़ में मायावती की उन्हीं सीटों पर नजरें हैं जो उन्हें चुनाव में जीत दिला सकें और साथ ही राजनीतिक समीकरण ऐसा बना सकें, जिससे उनके बिना किसी दूसरे राजनीतिक दल की सरकार सत्ता पर काबिज न हो सके. वाजपेयी ने कहा था, सूबे में बसपा इस बार के विधानसभा चुनाव में अपने कार्यकर्ताओं की फौज तैयार कर चुनावी मैदान में ताल ठोकने की तैयारी में जुटी हैं.

लोकसभा चुनाव 2019ः मायावती बोलीं- मेरा किसी से बुआ-भतीजे का रिश्ता नहीं, सम्मानजनक सीटें मिलने पर ही गठबंधन करेगी BSP

मायावती ने स्वतंत्रता दिवस पर PM मोदी के संबोधन को बताया चुनावी भाषण, कहा- ऐसा लगा जैसे लोकसभा चुनाव 2019 की स्पीच दे रहे हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App