लखनऊः उन्नाव गैंगरेप और पीड़िता के पिता की मौत के मामले में सीबीआई ने मंगलवार को चौथा केस दर्ज किया है. सीबीआई ने शशि सिंह के बेटे शुभम सिंह और एक अन्य अवधेश तिवारी के खिलाफ मामला दर्ज किया है. दोनों के खिलाफ पीड़िता को बहला-फुसलाकर भगा ले जाने का आरोप है. सीबीआई पूरे मामले की बारीकी से जांच में जुटी है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, हाई कोर्ट के निर्देश के बाद सीबीआई ने पीड़िता के अपहरण और गैंगरेप मामले में यह केस दर्ज किया है. पीड़िता के बयान के आधार पर इस केस में गैंगरेप की धारा 376D को जोड़ते हुए नरेश तिवारी और दो अन्य लोगों को भी आरोपी बनाया गया. बताते चलें कि शशि सिंह विधायक की सहयोगी है. बताया जा रहा है कि शशि ने ही पीड़िता को विधायक से मिलवाया था. शशि सिंह फिलहाल सीबीआई की गिरफ्त में है.

सूत्रों के अनुसार, मंगलवार को गैंगरेप के मुख्य आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को उन्नाव ले जाया जाएगा. वहां विधायक का पीड़िता से आमना-सामना कराया जाएगा. बीते सोमवार सीबीआई की विशेष न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने पीड़िता का 164 के तहत कलमबंद बयान दर्ज कराया गया. बयान को सीलबंद कर सुरक्षित रख लिया गया. बयान दर्ज कराने के बाद सीबीआई पीड़िता को अपनी सुरक्षा में लेकर चली गई.

गौरतलब है कि पीड़िता ने विधायक और उसके गुर्गों पर पिछले साल गैंगरेप का आरोप लगाया था. इस मामले में पीड़िता सीएम योगी आदित्यनाथ से भी मिली थी. आरोपी विधायक के खिलाफ कोई कार्रवाई न होती देख हाल में पीड़िता ने योगी के आवास के बाहर आत्मदाह की कोशिश की. इसके अगले दिन पीड़िता के पिता की संदिग्ध हालात में मौत हो गई. पीड़िता ने आरोप लगाया कि विधायक ने ही उसके पिता की हत्या की है.

कठुआ गैंगरेपः पीड़िता की वकील दीपिका सिंह राजवंत ने कहा- मेरा बलात्कार या हत्या हो सकती है

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App