लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला विधानसभा बजट सत्र 23 मई से शुरू होगा। विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने 31 मई तक प्रस्तावित इस विधानमंडल बजट सत्र का शनिवार को इसके तिथिवार कार्यक्रम को मंजूरी दे दी।

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला विधानसभा बजट सत्र 23 मई से शुरू होगा। इस सत्र के दौरान योगी आदित्यनाथ सरकार 26 मई को अपने दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश करेगी। विधानसभा सचिवालय की ओर से शनिवार को जारी कार्यक्रम के मुताबिक राज्यपाल आनंदीबेन पटेल बजट सत्र के पहले दिन 23 मई को दोनों सदनों के समक्ष अभिभाषण पेश करेंगी। इसके बाद 24 और 25 मई को भाषण पर चर्चा होगी। 26 मई को बजट पेश किया जाएगा।

माना जा रहा है कि योगी आदित्यनाथ सरकार का बजट 5.6 लाख करोड़ तक हो सकता है। योगी आदित्यनाथ सरकार 2.0 का यह बजट किसानों, युवाओं, महिलाओं और बुजुर्गों के हितों को ध्यान में रखकर तैयार किया जा रहा है। योगी आदित्यनाथ सरकार 2.0 का आगामी बजट सुशासन, सुरक्षा और विकास पर आधारित होगा। इसमें महिलाओं को सुरक्षा और सम्मान देने, किसानों की आय बढ़ाने, शिक्षा के प्रसार और युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने पर विशेष ध्यान दिया गया है. योगी आदित्यनाथ सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला आगामी बजट संकल्प पत्र पर आधारित होगा। जिसमें उज्ज्वला योजना के तहत किसानों को सिंचाई के लिए मुफ्त बिजली, होली और दीपावली पर दो मुफ्त सिलेंडर मिल सकते हैं। यह भाजपा के चुनावी घोषणापत्र की पहली घोषणा थी।

योगी आदित्यनाथ सरकार अपने दूसरे कार्यकाल के पहले बजट में फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी की व्यवस्था भी कर सकती है। इसके अलावा किसानों को लावारिस पशुओं से निजात दिलाने के लिए भी सरकार बजट में प्रावधान कर सकती है। योगी आदित्यनाथ सरकार प्राकृतिक खेती, मेगा फूड पार्क की स्थापना पर भी ध्यान देगी ताकि कृषि उपज की मांग में लगातार वृद्धि हो सके.

यह भी पढ़ें-

दिल्ली: मुंडका अग्निकांड में अब तक 27 लोगों की मौत, NDRF का बचाव अभियान जारी

 

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर