नई दिल्ली. बिहार के बोध गया से बुधवार को एक बौद्ध भिक्षु को गिरफ्तार किया गया. पुलिस के अनुसार भिक्षु पर आरोप है कि उसने असम से उसके स्कूल और ध्यान केंद्र में पढ़ने आए 15 बच्चों का शारीरिक शोषण किया है. शहर के एसपी अनिल कुमार ने कहा कि भिक्षु से डिप्टी एसपी राजकुमार शाह द्वारा पूछताछ की गई है.

बता दें कि बौद्ध भिक्षु बोध गया में एक संस्थान चलाता था जहां असम के कारबी अंगलोंग जिले से आए 15 छात्र पढ़ रहे थे. पुलिस को अचानक सूचना मिली की संस्थान में बौद्ध भिक्षु द्वारा  छात्रों के साथ शोषण हो रहा है.

महिला थाना कि एसएचओ ने छात्रों से पूछताछ की. उन्हें गुरुवार को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाना है और उनके बयान को सीआरपीसी सेक्शन के तहत दर्ज किया जाएगा. इसके अलावा शिकायत के आधार पर उन्हें मेडिकल चेकअप के लिए भी भेजा गया है.

गौरतलब है कि पिछले कुछ सालों में धर्म गुरुओं पर इस तरह के कई आरोप लगे हैं. इन लगातार आ रही खबरों के बीच कई बाबाओं और मौलवियों की भी पोल खुली जो धर्म के नाम पर गोरखधंधा फैलाते हैं और इसी की मदद से लोगों और बच्चियों का शारीरिक शोषण भी करते हैं. इस कड़ी में सबसे बड़े भांडाफोड़ आशाराम का हुआ था जो कि अपने यहां आने वाली साध्वियों के साथ जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाता था. वहीं राम रहीम को भी इसी मामले में 20 साल सजा सुनाई गई है.

संकट में बचपनः चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर 1098 के पास तीन साल में आए 1.36 करोड़ साइलेंट कॉल

दिल्ली में छात्रा का यौन उत्पीड़न करने के आरोप में सरकारी स्कूल का शिक्षक गिरफ्तार, वीडियो भी बनाया था

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App