लखनऊ. उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए बसपा सुप्रीमों मायावती ने किसी भी तरह कब गठबंधन से इनकार कर दिया है।

मायावती ने उन खबरों का खंडन किया है, जिसमें कहा गया था कि वे एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी से यूपी विधानसभा चुनाव में गठबंधन करेंगी। उन्होंने ट्वीट करते हुये ऐसी खबरों का सिरे से खारिज कर दिया।

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट किया, ‘मीडिया के एक न्यूज चैनल में कल से यह खबर प्रसारित की जा रही है कि यूपी में आगामी विधानसभा आम चुनाव औवेसी की पार्टी AIMIM और बीएसपी मिलकर लड़ेगी। यह खबर पूर्णतः गलत, भ्रामक व तथ्यहीन है। इसमें रत्तीभर भी सच्चाई नहीं है तथा बीएसपी इसका जोरदार खण्डन करती है।’

मायावती ने आगे कहा, ‘वैसे इस संबंध में पार्टी द्वारा फिर से यह स्पष्ट किया जाता है कि पंजाब को छोड़कर, यूपी व उत्तराखण्ड प्रदेश में अगले वर्ष के प्रारंभ में होने वाला विधानसभा का यह आम चुनाव बीएसपी किसी भी पार्टी के साथ कोई भी गठबंधन करके नहीं लड़ेगी अर्थात अकेले ही लड़ेगी।’

अखिलेश ने भी नकारा था

समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव भी मायावती के साथ दोबारा गठबंधन करने से इनकार कर चुके हैं। एक टीवी चैनल के साथ हालिया इंटरव्यू में अखिलेश ने कांग्रेस और बीएसपी दोनों के साथ गठबंधन की संभावनाएं नकार दीं थीं।

मालूम हो कि 2017 के यूपी विधानसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस के साथ और 2019 लोकसभा चुनावों में बीएसपी के साथ गठबंधन किया था। हालांकि, इन दोनों ही गठबंधन से कोई फायदा नहीं मिल पाया। दोनों बार बीजेपी ने अच्छी जीत दर्ज की थी।

Free Haircut after Corona Vaccine in Darbhanga : दरभंगा के इस सैलून में कोरोना टीका लगाने वाले ग्राहकों को मुफ्त मिल रही है सर्विस

UPPSC Recruitment 2021: चिकित्सा विभाग असिस्टेंट प्रोफेसर की 128 पदों पर निकली भर्तियां, यहां देखें पूरी डीटेल्स