अमरोहाः उत्तर प्रदेश के अमरोहा में एक लड़की की जल्द शादी होने वाली थी. वह व्हाट्सएप का काफी ज्यादा इस्तेमाल करती थी. वह रोजाना कई घंटों तक ऑनलाइन रहती थी. वह लड़की अपने होने वाले पति के साथ-साथ कई लोगों को भी खूब मैसेज भेजती थी. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, शादी वाले दिन दुल्हन का परिवार और रिश्तेदार बारात का इंतजार कर रहे थे लेकिन बारात नहीं आई. उन्हें बताया गया कि लड़की के व्हाट्सएप का काफी इस्तेमाल करने की वजह से लड़के और उसके परिवार वालों ने शादी से इनकार कर दिया.

मामला अमरोहा के नौगांवा सादात के शाहफरीद मोहल्ले का है. दुल्हन के परिजनों ने इस तरह की खबरों को बेबुनियाद बताया. उन्होंने दूल्हा पक्ष पर आरोप लगाया कि लड़के के परिवार बतौर दहेज 65 लाख रुपये मांग रहे थे. मिली जानकारी के अनुसार, पांच सितंबर को बारात आनी थी. सभी तैयारियां पूरी हो चुकी थीं. जब बारात आने में देरी हुई तो दुल्हन के पिता ने दूल्हे के पिता को फोन कर बारात की लोकेशन पूछी. दूल्हे के पिता ने कहा कि वह लोग बारात लेकर नहीं आ रहे हैं क्योंकि उनकी बेटी हमेशा व्हाट्सएप पर ऑनलाइन रहती है और इससे उनका बेटा खुश नहीं है, लिहाजा वह लोग शादी तोड़ रहे हैं.

दूल्हे पक्ष का कहना है कि उनके बेटे को पता चला कि लड़की व्हाट्सएप पर कई लोगों से बात करती है. जिसकी वजह से उन्होंने शादी तोड़ने का फैसला किया. शादी की तारीख तय नहीं थी और बारात नहीं लाने वाली बात सरासर गलत है. दुल्हन के पिता ने आरोप लगाया कि निकाह से कुछ वक्त पहले ही दूल्हे के परिवार ने 65 लाख रुपये की मांग कर डाली. उनकी बेटी के व्हाट्सएप का लगातार इस्तेमाल करने की बात बिल्कुल गलत है. उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

नहीं लॉन्च हुआ व्हाट्सएप को टक्कर देने आया पतंजलि का किंभो एप, आचार्य़ बालकृष्ण बोले- अभी लगेगा और समय

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App