नई दिल्ली। बिहार लोक सेवा आयोग की 67वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा का पेपर लीक हो गया है. इसके लेकर पूरे बिहार में अभ्यर्थियों में रोष है.  भोजपुर के वीर कुंवर सिंह कॉलेज परीक्षा केंद्र पर अभ्यर्थियों ने जमकर हंगामा किया. उन्होंने परीक्षा केंद्र पर पेपर लीक होने, कुछ परीक्षार्थियों के मोबाइल लेकर अंदर लेकर जाने और विशेष कक्ष में बैठकर परीक्षा देने का आरोप लगाया. परीक्षार्थियों ने कहा कि अथॉरिटी इस तरह के आरोप लगाने पर उन्हें फंसाने की धमकी दे रही थी. पूरे मामेल की जांच के लिए बिहार लोग सेवा आयोग ने तीन सदस्यीय जांच कमेटी गठित की है और 24 घंटे में रिपोर्ट देने को कहा है.

परीक्षार्थियों ने लगाए ये आरोप

हंगामा करने वाले छात्रों का आरोप है कि कुछ के लिए परीक्षा केंद्र पहले से ही मैनेज था, जिन्हें समय से पहले ही प्रश्नपत्र दे दिए गए. उन लोगों को नीचे दो अलग-अलग कमरों में बिठाया गया. जब परीक्षा शुरू होने के कुछ मिनट बाद तक प्रश्नपत्र नहीं मिला तो परीक्षार्थियों ने हंगामा करना शुरू कर दिया और उन कमरों में भी घुस गए जहां कुछ परीक्षार्थी पहले से ही प्रश्न पत्र हल कर रहे थे. आरोप है कि कुछ अभ्यर्थियों ने पहले से ही प्रश्नपत्र हल कर रहे अभ्यर्थियों के प्रश्नपत्र फाड़ दिए. इसके बाद वे गेट पर जमा हो गए और हंगामा करने लगे.

bpsc paper leak

डीएम ने करवाए प्रश्न पत्र सील

घटना की सूचना मिलते ही भोजपुर के डीएम रोशन कुशवाहा परीक्षा केंद्र पहुंचे. उन्होंने बताया कि सभी प्रश्नपत्रों को सील कर दिया गया है. प्रश्न पत्र परीक्षा केंद्र से बाहर निकलने की पुष्टि नहीं हुई है. डीएम ने कहा कि परीक्षार्थियों से लिखित शिकायत मांगी गई है. बिहार लोक सेवा आयोग जांच रिपोर्ट के आधार पर अंतिम फैसला लेगा.

बिहार लोक सेवा आयोग के संयुक्त सचिव और परीक्षा नियंत्रक अमरेंद्र कुमार ने कहा कि उन्हें टीवी चैनलों पर प्रसारित सूचना से पेपर लीक होने की जानकारी मिली. इस मामले में आयोग के अध्यक्ष आरके महाजन ने तीन सदस्यीय जांच कमेटी का गठन कर 24 घंटे के भीतर रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया है. इसके बाद आयोग फैसला लेगा.

यह भी पढ़े:

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

 

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर