मिदनापुरः पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रैली की. इस दौरान राज्य में पीएम मोदी की मौजूदगी से गदगद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने करीब एक दर्जन पुलिस वालों पर ही हमला बोल दिया. मारपीट की इस घटना को कुछ लोगों ने अपने मोबाइल में रिकॉर्ड कर लिया. बताया जा रहा है कि कार्यकर्ता रैली स्थल से पहले ही पुलिस वालों के रोके जाने से नाराज थे.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सुरक्षा और यातायात व्यवस्था में तैनात पुलिसकर्मियों ने ट्रैफिक जाम की वजह से बीजेपी कार्यकर्ताओं से भरी बसों को सभा स्थल से कुछ दूर पहले ही रोक दिया था. उनको वहां से पैदल जाने को कहा गया. जिसके बाद बीजेपी कार्यकर्ता बेकाबू हो गए और लोहे की रॉड, डंडे, चप्पल आदि से पुलिस वालों को पीटने लगे. नीचे दिए गए दोनों वीडियो की इनखबर पुष्टि नहीं करता है. वीडियो में आप देख सकते हैं कि किस तरह से कार्यकर्ता पुलिस वालों से मारपीट कर रहे हैं.

सिविक वॉलंटियर्स को भी दौड़-दौड़ाकर डंडों से पीटा गया. उनपर साइकिल भी फेंकी. बताया जा रहा है कि मारपीट में 7 पुलिसकर्मी जख्मी हुए हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस के साथ मारपीट की घटना पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि उन्हें घटना की जानकारी है लेकिन फिलहाल वह इस पर कुछ नहीं बोलेंगी. उन्होंने बस इतना कहा कि पुलिस इस मामले में अपना काम करेगी. मारपीट की घटना पर बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कार्यकर्ताओं की ओर से माफी मांगी.

पश्चिम बंगाल के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) अनुज शर्मा ने पुलिसकर्मियों से मारपीट की पुष्टि करते हुए कहा कि मामले की जांच की जा रही है. वीडियो के आधार पर आरोपियों को चिन्हित किया जा रहा है. हम उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की तैयारी कर रहे हैं. बता दें कि दिलीप घोष ने भले ही घटना पर दुख जताते हुए माफी मांग ली हो लेकिन पिछले महीने जलपाईगुड़ी पुलिस स्टेशन के पास प्रदर्शन के दौरान उन्होंने पुलिस को सबक सिखाने की बात भी कही थी.

 

पीएम मोदी की मिदनापुर रैली में हादसाः पंडाल का एक हिस्सा गिरने से 22 लोग घायल, घायलों को देखने अस्पताल पहुंचे PM

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App