श्रीनगर: सीजफायर को लेकर जम्मू-कश्मीर में पीडीपी-बीजेपी गठंबधन टूट गया है और महबूबा मुफ्ती की सरकार गिर गई है. मंगलवार को बीजेपी ने पीडीपी से समर्थन वापसी का ऐलान कर दिया. आज सवेरे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा जम्मू कश्मीर में राज्यपाल शासन का मंजूरी दे दी. जिसके तुरंत बाद ही गवर्नर वी वी वोहरा ने सुरक्षा अधिकारियों की 2.30 बजे बैठक बुलाई है. बता दें मंगलवार को बीजेपी ने राज्यपाल एन एन वोहरा को समर्थन वापसी का पत्र भेजा था  जिसके बाद महबूबा मुफ्ती ने भी सीएम पद से अपना इस्तीफा राज्यपाल को भेज दिया. 

बता दें कि जम्मू कश्मीर की 89 सदस्यों की विधानसभा में 2 नॉमिनेटेड मेंबर के अलावा 87 सदस्य होते हैं जिनका चुनाव होता है. इन 87 में पीडीपी के 28, बीजेपी के 25, नेशनल कॉन्फ्रेंस के 15, कांग्रेस के 12, सीपीएम 1, पीडीएफ 1 और दूसरी पार्टियों और निर्दलीय 5 विधायक हैं. पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस एक-दूसरे की कट्टर विरोधी हैं इसलिए ये एक साथ सरकार नहीं बना सकतीं और बीजेपी का साथ देने के लिए भी कोई पार्टी तैयार नहीं है.

कांग्रेस ने महबूबा मुफ्ती को समर्थन देने से मना कर दिया है. समर्थन वापस लेने के पीछे बीजेपी ने तर्क दिया है कि घाटी में कट्टरपंथी बढ़ती जा रही है और बोलने की आजादी तक खतरे में पड़ गई है. उन्होंने कहा कि हमने तीन साल तक पीडीपी के साथ सुचारू रूप से सरकार चलाने की कोशिश की लेकिन वर्तमान हालातों को देखते हुए गठबंधन जारी रखना बहुत मुश्किल हो गया था.

राम माधव ने कहा कि इन तीन सालों के दौरान विकास कार्य भी हुए और बॉर्डर पर रह रहे लोगों की सुरक्षा के इंतजाम भी किए गए. लेकिन जम्मू-कश्मीर का नेतृत्व साथ निभाने में विपल साबित हुआ. उन्होंने कहा कि बीजेपी के मंत्रियों को जम्मू और लद्दाख के इलाकों में काम करना मुश्किल हो रहा था. इसलिए हमने गठबंधन तोड़ने का फैसला लिया है.

Live Updates:

  • बीजेपी के वरिष्ठ नेता और जम्मू कश्मीर विधानसभा अध्यक्ष निर्मल सिंह ने पीडीपी की महबूबा मुफ्ती पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि राज्य में उनके कार्यकाल में शांति भंग कर दी है. उनके कार्यकाल में आतंकी गतिविधियां बढ़ गई थी और वह अफ्सा कानून हटाना चाहती थी लेकिन बीजेपी उनके प्रेशर में नही आई.
  • जम्मू कश्मीर के बीजेपी अध्यक्ष रवींद्र रैना ने बताया कि 23 जून को श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि व बलिदान दिवस है. इस मौके पर जम्मू कश्मीर में बड़ी रैली का आयोजन किया जाएगा जिसे भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह संबोधित करेंगे.
  • राष्ट्रपति द्वारा राज्यपाल शासन की मंजूरी मिलते ही जम्मू कश्मीर के राज्यपाल वी वी वोहरा ने सुरक्षाबलों के अधिकारियों की मीटिंग बुलाई है. जम्मू कश्मीर के गवर्नर के द्वारा ये बैठक दोपहर 2. 30 बजे शुरू होगी.
  • राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जम्मू कश्मीर में राज्यपाल शासन को मंजूरी दे दी है. मंगलवार को बीजेपी द्वारा समर्थन वापस लेने के बाद महबूबा मुफ्ती सरकार गिर गई. 
  • सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि जम्मू कश्मीर के राज्यपाल एन एन वोहरा ने गृह मंत्रालय को राज्यपाल शासन के लिए चिट्ठी भेजी है. 
  • महबूबा मुफ्ती ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि हमने राज्य की भलाई के लिए गठबंधन किया था, जम्मू कश्मीर में सख्ती की नीति नहीं चलेगी. हमने 11000 युवाओं पर लगे मुकदमे वापस कराए. राज्य की बेहतरी का हर प्रयास किया.
  • जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा कि नेशनल कांफ्रेंस किसी के साथ सरकार नहीं बनाएगी. पत्रकारों से वार्ता से पहले अब्दुल्ला ने राज्यपाल एनएन वोहरा से मुलाकात की.
  • राम माधव ने यह भी कहा कि यह फैसला भारत के हित में लिया गया है. भारत की अखंडता और संप्रभुता बनाए रखने के लिए यह फैसला लिया गया है.
  • रमजान के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा सीजफायर रोक देने के चलते बीजेपी और पीडीपी में मतभेद हो रहा था. महबूबा मुफ्ती सीजफायर रोकने पर नाराज थीं. इसके चलते बीजेपी ने पीडीपी से गठबंधन तोड़ लिया
  • महबूूूबा मुफ्ती ने राज्यपाल को इस्तीफा सौंपा. राम माधव ने कहा- सरकार चलाने में कठिनाई हो रही थी.
  • बीजेपी अध्यक्ष बोले- अब आतंकियों को ठोकेंगे. शाम चार बजे प्रेस कांफ्रेंस करेंगी महबूबा मुफ्ती.

BJP-PDP alliance ends LIVE updates: सीजफायर पर बीजेपी-पीडीपी गठबंधन में आग, भाजपा की समर्थन वापसी से जम्मू-कश्मीर की महबूबा मुफ्ती सरकार गिरी

श्रीनगर में रमजान में बड़ा हमला, राइजिंग कश्मीर के संपादक शुजात बुखारी की हत्या, गार्ड की भी मौत

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App