नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले महीने उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे हैं। ।
प्रधान मंत्री के अलावा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी दोनों कोविड पॉजीटिव पाए गए थे इसलिए वह वर्चुअली माध्यम से जुड़ेंगे।

गृह मंत्री अमित शाह और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ-साथ उनके डिप्टी दिनेश शर्मा और केशव प्रसाद मौर्य पार्टी मुख्यालय में मौजूद हैं।
मिली जानकारी के अनुसार भाजपा की कोर कमेटी ने विधानसभा चुनाव में पहले और दूसरे चरण की 113 सीटों सहित करीब 150 से अधिक प्रत्याशियों के नाम तय कर लिए हैं।

आज की बैठक का मुख्य उद्देश्य पहले दो चरणों के लिए उम्मीदवारों को अंतिम रूप देना है, भविष्य में और बैठकों की उम्मीद के साथ, अन्य चुनावी राज्यों के लिए अलग बैठक की योजना बनाई गई है। आज जिन बड़े मुद्दों पर चर्चा होनी है उनमें यह भी है कि योगी आदित्यनाथ चुनाव लड़ेंगे या नहीं।

आदित्यनाथ ने कभी विधानसभा चुनाव नहीं लड़ा

आदित्यनाथ ने कभी विधानसभा चुनाव नहीं लड़ा। वह पहले गोरखपुर लोकसभा सीट का पांच बार प्रतिनिधित्व कर चुके हैं और वर्तमान में राज्य की विधान परिषद के सदस्य हैं। पार्टी के कोर ग्रुप ने मंगलवार को भी 10 घंटे से अधिक समय तक बैठक की।
पिछले तीन दिनों में हुई बैठकों से संकेत मिलता है कि भाजपा अगले दो महीनों में पांच राज्यों – यूपी, पंजाब, गोवा, उत्तराखंड और मणिपुर में चुनाव से पहले मजबूती से चुनावी मोड में है।
बीजेपी अपना दल की सहयोगी अनुप्रिया पटेल और निषाद पार्टी के संजय निषाद के साथ कुछ ऐसा ही करने की कोशिश कर रही है, दोनों ने सीट बंटवारे पर चर्चा करने के लिए कल अमित शाह से मुलाकात की थी।

उत्तर प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों के लिए सात चरणों में मतदान 10 फरवरी से शुरू होगा। उत्तर प्रदेश में अन्य चरणों में मतदान 14, 20, 23, 27 फरवरी, 3 और 7 मार्च को होगा। मतों की गिनती 10 मार्च को होगी।

Bihar: कानूनी शिकंजा कसते ही घबरा गए कोरोना वैक्सीन की 12 डोज लेने वाले ब्रहमदेव मंडल, कहा- मोदी से करुंगा शिकायत

MLA Vinay Shakya Quit BJP : बीजेपी विधायक विनय शाक्य ने छोड़ी पार्टी, स्वामी प्रसाद मौर्य को फॉलो करेंगे

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर