इंदौर. भारतीय जनता पार्टी के पश्चिम बंगाल प्रभारी दिग्गज नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे और मध्य प्रदेश के इंदौर से भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय की गुंडागर्दी की एक वीडियो वायरल हो गई है. वीडियो में आकाश विजयवर्गीय नगर नगम की टीम के साथ क्रिकेट बैट से मारपीट कर रहे हैं. दरअसल इंदौर के गंजी कंपाउंड इलाके में नगर निगम की टीम जर्जर मकानों को तोड़ने पहुंची थी लेकिन वहां के लोग इसका विरोध कर रहे थे. उस दौरान कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश भी अपने समर्थकों को साथ वहां पहुंच गए और नगर निगम की कार्रवाई का विरोध करना शुरू कर दिया. इस मामले में आकाश विजयवर्गीय को गिरफ्तार कर लिया गया. आकाश की ओर से इंदौर कोर्ट में जमानत की अर्जी भी दी गई लेकिन अदालत ने खारिज कर दिया जिसके बाद आकाश को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. इस दौरान उनका समर्थकों ने हंगामा भी किया, लेकिन उसी समय पुलिस ने सभी समर्थकों को वहां से खदेड़ दिया. 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आकाश विजयवर्गीय ने नगर निगम के अधिकारियों को अतिक्रमण न हटाने की चेतावनी दी, उस दौरान उनके समर्थक भी गुंडागर्दी पर उतर आए. उन्होंने जबरन जेसीबी मशीन की चाबी निकाल ली. इस दौरान आकाश और निगम के अधिकारियों की तीखी बहस होनी शुरू हो गई. और आकाश ने निगम के अधिकारियों के साथ मारपीट शुरू कर दी.

वीडियो में कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश अपने समर्थकों के साथ हाथ बल्ला लिए आ रहे हैं और वहां मौजूद निगम के अधिकारी की पिटाई करना शुरू कर देते हैं. इस दौरान उनके समर्थक भी मारपीट पर उतार होते हुए नजर आ रहे हैं. इस बीच पुलिसकर्मी ने भी आकाश को रोकने की काफी कोशिश की लेकिन पुलिस की भी कुछ न चल सकी.

जहां कैलाश विजयवर्गीय पश्चिम बंगाल में हो रही हिंसा पर ममता बनर्जी की टीएमसी पर हमलावर होते नजर आ रहे हैं तो वहीं उनके खुद के विधायक बेटे मध्य प्रदेश के इंदौर में सारे नियम कानून ताक पर रखते हुए नगर निगम के अधिकारियों की पिटाई कर रहे हैं. 

ITV Network Hosts India Next Conclave: आईटीवी नेटवर्क के इंडिया नेक्स्ट कॉन्क्लेव में जुटे भारतीय राजनीति के दिग्गज, प्रकाश जावडेकर, गजेन्द्र सिंह शेखावत, सुब्रमण्यण स्वामी, तेजस्वी सुर्या, हरदीप सिंह पुरी, मनोज तिवारी समेत अन्य नेताओं ने मोदी सरकार 2.0 के एजेंडे पर की बात

Triple Talaq Bill Divides NDA: तीन तलाक बिल को लेकर एनडीए में फूट, जेडीयू ने कॉमन एजेंडा सेट करने के लिए समन्वय समीति बनाने की मांग

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App