बिहार, बिहार की राजनीति इस समय गरमाई हुई है जहाँ एक ओर जातीय जनगणना का जोर है वहीँ लोक जनशक्ति पार्टी में विभाजन का शोर भी देखने को मिल रहा है. ऐसे में चिराग पासवान से अलग होने के बाद लोक जनशक्ति पार्टी के नेता पशुपति पारस अपने लोकसभा क्षेत्र हाजीपुर पहुंचे जहाँ उनपर स्याही फेंक दी गई,  हालांकि वह स्याही उन्हें नहीं लगी लेकिन इस मामले ने बिहार की सियासी गहमा-गहमी को और अधिक तूल दे दिया है. 

मंत्री बनने के बाद पहली बार गए अपने लोकसभा क्षेत्र

लोक जनशक्ति पार्टी में बीते कुछ महीनों से पशुपति पारस और चिराग पासवान के अलग होने का शोर है, पार्टी दो हिस्सों में बंट गई है. ऐसे में केंद्रीय मंत्री बनने के बाद पशुपति पारस पहली बार अपने लोकसभा क्षेत्र हाजीपुर पहुंचकर आभार यात्रा निकाल रहे थे, जहाँ पार्टी कार्यकर्ताओं ने पूरी गर्मजोशी से उनका स्वागत किया लेकिन इसी बीच एक महिला ने उनपर स्याही फेंक दी. हालांकि वह स्याही उन्हें नहीं उनके कार्यकर्ताओं को लगी. बताया जा रहा है कि वह महिला चिराग की समर्थक थी और पशुपति पारस से नाराज़गी की वजह से उसने आक्रोश में आकर उनपर स्याही फेंक दी. बहरहाल, अब तक स्याही फेंके जाने का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है.