नई दिल्ली/ पश्चिम बंगाल में बिहार थाने के एसएचओ की पीट- पीटकर हत्या कर दी गई है. बता दें कि किशनगंज टाउन थाने के एसएचओ अश्विनी कुमार अपनी टीम के साथ बंगाल सीमा के पास एक वॉन्टेड अपराधी को उसके ठिकाने पर दबोचने के लिए गई थी, लेकिन तभी वहां कुछ लोगों ने उन पर हमला बोल दिया और पीट-पीटकर मार डाला.

मामला बंगाल के पंजीपाड़ा थाने के पनतापारा गांव का है. इस गांव में एक वॉन्टेड अपराधी छिपा था, जिसे पकड़ने बिहार के किशनगंज के थानेदार अश्वनी कुमार गए थे. इसी दौरान अपराधियों ने पहले उनसे झगड़ा किया. फिर उन पर हमला कर उनकी हत्या कर दी. इस मामले में पुलिस ने कहा कि इस मामले में छानबीन की जाएगी और आरोपियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा. इस पूरे मामले में पुलिस ने एक आरोपी को हिरासत में लिया है.

घटना की जानकारी मिलते ही आईजी समेत कई बड़े पुलिस अधिकारी मौके पर वहां पहुंचे और मृतक एसएचओ अश्विनी कुमार के शव को पोस्टमार्टम के लिए इस्लामपुर अस्पताल में भेज दिया. पोस्टमार्टम के दौरान किशनगंज एसपी, इस्लामपुर एसपी, किशनगंज एसडीपीओ सहित कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे. आईजी सुरेश प्रसाद ने इस मामले में बताया कि थाना अध्यक्ष की छापेमारी के दौरान मौत हुई है. पूरी जानकारी मिलने के बाद ही आगे बात की जाएगी. फिलहाल एसपी हमारा पूरी तरह से सहयोग कर रहे हैं, जल्द अपराधियों की गिरफ्तारी होगी.

गांव में पहुंचते ही ग्रामीणों ने अचानक पुलिस टीम पर हमला कर दिया और किशनगंज थानेदार की लाठी-डंडे और पत्थर से पीट-पीटकर कर हत्या कर दी. घटना के बाद प्रदेश अध्यक्ष ने मांग की है कि मृतक इंस्पेक्टर अश्वनी कुमार के परिवार को भारत सरकर के गृह विभाग और बिहार सरकार की ओर से एक-एक करोड़ की आर्थिक सहायता दी जाए.

Covid-19 Update: 24 घंटों में डेढ़ लाख के करीब कोरोना के केस, 794 लोगों ने गंवाई जान\

West Bengal Election 2021: टीएमसी के रणनीतिकार प्रशांत किशोर का ऑडियो लीक, कहा- एंटी इंकम्बेंसी स्टेट का डर, मोदी पॉपुलर हैं…

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर