नई दिल्ली/ देश के अलग अलग राज्यों में कोरोना फिर से रफ्तार पकड़ने लगा है. कोरोना के बढ़ते मामलों को देख नीतीश सरकार अलर्ट मोड पर आ चुकी है. जी हां अगर आप बिहार के रहने वाले है और होली पर वापस बिहार लौट रहे है तो इस खबर को एक बार जरूर पढ़ लीजिए.

होली के दौरान बिहार आने वाले यात्रियों पर सरकार की खास नजर होगी. बिहार लौटने वाले यात्रियों को अपनी जांच रिपोर्ट दिखानी होगी. देश में लगातार कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे है. बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बिहार सरकार ऐसी चूक नहीं करना चाहता जिससे राज्य में कोरोना का खतरा फिर से बढ़ जाए.

साथ ही जिसके पास कोरोना जांच की रिपोर्ट नहीं होगी, उनका कोरोना टेस्ट यहीं किया जाएगा. अगर जांच में यात्री पॉजिटिव मिले तो उन्हें होम आइसोलेशन में रहना होगा. बड़ी संख्या में जांच कराए जाने की संभावना को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग को RTPCR के साथ एंटीजन टेस्ट की व्यवस्था करने के निर्देश दिये गए हैं.

स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि सिविल सर्जन समेत दूसरे अधिकारियों को अधिक से अधिक लोगों की जांच कराने को कहा गया है. साथ ही रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट, बस अड्डों पर बाहर से आने वालों की भी जांच होगी.

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि कोरोना के बढ़ते आंकड़े को लेकर हम निगरानी रखे हुए हैं. हमने अपने विभाग के प्रधान सचिव सहित अधिकारियों को निर्देश दिया है कि कोरोना की जांच को बढ़ाया जाए.  रेलवे स्टेशन और बस अड्डा हैं, वहां रैंडम जांच की व्यवस्था शुरू की जाए. मंगल पांडे ने आगे कहा कि होली को ध्यान में रखकर और दूसरे राज्यों में जो चल रहा है, उसको ध्यान में रखकर कोरोना की टेस्टिंग को बढ़ाने का निर्णय लिया है. जहां लोग आते हैं जैसे बस अड्डा, रेलवे स्टैंड ऐसी जगहों पर रैंडम टेस्ट करवाए जाएंगे. जिन जगहों पर कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है, वहां से जो लोग बिहार आ रहे है, उनकी जांच करवाई जाएगी.

Teacher Student Affair: आठवीं के छात्र के साथ 3 बच्चों की मां फरार, पुलिस ने शुरू की जांच

Bihar Police Liquor: बिहार में पुलिस जवान ने शराब की बोतल को पटक-पटक कर फोड़ा, पुलिस के इस अंदाज को देखकर हैरान हुए लोग

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर