रायपुर. छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. बीजेपी चीफ अमित शाह के छत्तीसगढ़ दौरे के दूसरे दिन 18 साल कांग्रेस में रहे पाली-तानाखार के विधायक राम दयाल उइके शनिवार को बीजेपी में शामिल हो गए. छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह और अमित शाह की मौजूदगी में उन्होंने बीजेपी का दामन थामा.

उस वक्त बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, राज्यसभा सांसद सरोज पांडे, रामविचार नेताम, मंत्री अमर अग्रवाल भी मौजूद थे. इस दौरान सिंह ने कहा कि उइके की घर वापसी हुई है, क्योंकि वह 18 साल पहले बीजेपी में ही थे. रामदयाल फिलहाल छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हैं, एेसे में उनका बीजेपी में शामिल होना कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के किसी झटके से कम नहीं है.

लंबे समय से उनके बीजेपी में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही थीं. बिलासपुर में सदस्यता लेने के बाद उइके ने कहा कि अगर कांग्रेस में किसी आदिवासी नेता को सम्मानजनक दर्जा नहीं मिलेगा तो इसी तरह का कदम उठाना पड़ेगा. पिछली बार जब राहुल गांधी छत्तीसगढ़ दौरे पर आए थे तो उइके को मंच साझा करने से रोक दिया गया था.

पाली-तानाखार में रामदयाल का काफी दबदबा है. इस दौरान रमन सिंह ने यह भी कहा कि उनके बीजेपी में शामिल होने से पार्टी राज्य में और भी ताकतवर बनेगी. उइके के बीजेपी में जाने पर कांग्रेस सांसद ताम्रध्वज साहू ने कहा कि पार्टी ने उन्हें बहुत कुथ दिया, कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष भी बनाया. वहीं टीएस सिंहदेव ने कहा कि रामदयाल का बीजेपी में जाना चौंकाने वाला फैसला है.

विधानसभा चुनाव 2018: चुनाव आयोग ने वोटिंग की तारीखों में बड़ा अंतर रखा, बीजेपी, कांग्रेस और दूसरी पार्टियों को प्रचार का भरपूर समय मिला

SC Rejects Congress MP Rajasthan Fake Voters Petition: फर्जी वोटर मामले में कांग्रेस को सुप्रीम कोर्ट का झटका, खारिज की कमलनाथ और सचिन पायलट की याचिका

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App