सहारनपुर. भीम आर्मी संस्थापक चंद्रशेखर आजाद ने रविवार को एक रैली संबोधित की. इस रैली में चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि आने वाले लोकसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को हराने के लिए उनकी भीम आर्मी, अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी और मायावती की बहुजन समाज पार्टी, सपा-बसपा गठबंधन का समर्थन करेगी. चंद्रशेखर आजाद की ये रैली उत्तर प्रदेश के सहारनपुर स्थित संत रविदास छात्रावास में आयोजित की गई थी. ये रैली भीम आर्मी द्वारा संचालित भीम स्कूल के शिक्षकों को सम्मानित करने के लिए रखी गई थी.

इस दौरान रैली संबोधित करते हुए चंद्रशेखर आजाद ने ये भी कहा कि वो चाहते थे कि एक सामाजिक गठबंधन बने जिससे उतर प्रदेश में बीजेपी को हराया जा सके. उनका ये सपना सपा-बसपा के गठबंधन से पूरा हो गया है. अब यही गठबंधन बीजेपी को उत्तर प्रदेश में रोकने का काम करेगा. उन्होंने कहा कि अगर बीजेपी ने किसी दलित को भी पार्टी से टिकट दे दिया तो भी उस उम्मीदवार को वोट मत देना.

साथ ही चंद्रशेखर आजाद ने एक ट्वीट किया. इसमें कहा, ‘मैं कोई चुनाव नही लड़ने वाला हूँ और पूरी तरह गठबंधन के साथ हूँ 2019 में बीजेपी को हराना ही हमारा एकमात्र लक्ष्य है इसलिए सभी संविधान बचाने की लड़ाई लड़ने वाले दलों को एक साथ आने की जरूरत है तभी बीजेपी को हराना आसान होगा इसलिए सपा बसपा गठबंधन में रालोद को भी साथ लेना चाहिए था.’ बता दें कि इस रैली के लिए भीम आर्मी ने लोगों से इसमें हिस्सा लेने की अपील की थी. वहीं चंद्रशेखर आजाद ने आरोप भी लगाए थे कि उत्तर प्रदेश में उनकी कई रैलियों की परमिशन रद्द कर दी गई.

Tejashwi Yadav to meet Akhilesh Yadav: सपा-बसपा गठबंधन को मिलेगा राजद का साथ! मायावती से मुलाकात के बाद अब अखिलेश यादव से मिलेंगे तेजस्वी यादव

Congress in UP: यूपी में शिवपाल यादव भी कर सकते हैं कांग्रेस से गठबंधन, ओल्ड अपना दल, पीस पार्टी और आरएलडी भी साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App