भोपालः मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में स्थित बरकतु्ल्लाह यूनिवर्सिटी से छात्राएं अब सिर्फ पढ़ कर ही नहीं बल्कि एक संस्कारी बहू और आदर्श बहू भी निकला करेगी. जी हां यह कोई मजाक नहीं बल्कि हकीकत है. इस विश्विविद्यालय में जल्द ही तीन महीने में आदर्श बहू बनाने वाला कोर्स अगले अकादमिक सत्र से शुरू किया जाएगा. बीयू के उपकुलपति प्रोफेसर डीसी गुप्ता ने इस कोर्स का मकसद बताते हुए कहा कि आदर्श बहू बनाने का यह कोर्स महिला सशक्तिकरण की दिशा में अगला कदम है क्योंकि एक यूनिवर्सिटी के तौर पर हमारी भी समाज के प्रति जिम्मेदारियां हैं जिसको ध्यान में रखते हुए हमारा उद्देश्य ऐसी बहुओं को तैयार करना है जो परिवार को तोड़ें नहीं बल्कि उनको जोड़ कर रखें.

भोपाल की बरकतुल्लाह यूनिवर्सिटी में आदर्श बहू तैयार बनाने का 3 महीने का कोर्स अन्य सर्टिफिकेट कोर्स जैसे मनोविज्ञान, समाजशास्त्र और महिला शिक्षा विभाग में बतौर पायलट प्रोजेक्ट शुरू किया जाएगा. इस कोर्स के पाठ्यक्रम में मनोविज्ञान और समाज शास्त्र के अलावा अन्य विषयों से जुड़े आवश्यक मुद्दों को शामिल किया जाएगा. यूनिवर्सिटी के उपकुलपति ने डीसी गुप्ता ने बताया कि हमारे इस तीन महीने कोर्स का मकसद है ये कोर्स करने के बाद लड़की परिवार के अंदर होने वाले उतार चढ़ाव के को समझने और उसमें सामंजस्य बिठाने के लिए तैयार हो सके और परिवार को टूटने से बचाकर उसे जोड़े रख सकें.

यूनीवर्सिटी से मिली जानकारी के मुताबिक नए अकादमिक सत्र में शुरू होने वाले आदर्श बहू कोर्स के लिए पहले बैच में 30 लड़कियों को प्रवेश दिया जाएगा. कोर्स में आवेदन करने के लिए न्यूनतम योग्यता के सवाल पर वीसी गुप्ता ने कहा कि अभी इस बारे में कुछ भी कहना मुनासिफ नहीं होगा. सूत्रों के मुताबिक यूनिवर्सिटी प्रशासन छात्राओं के परिजनों से इस कोर्स के बारे में बातचीत का सेशन जल्द ही करा सकता है. जिसमें ली गई अभिभावकों की राय पर विचार करते हुए उसे कोर्स में शामिल करने पर विचार किया जाएगा.

वायरल सच: IIT, BHU में लड़कियों को आदर्श बहू बनाने का कोर्स शुरू करने के पीछे की कहानी

80 साल की बहू ने 102 साल की सास को बकरी बेचकर कुछ ऐसा गिफ्ट किया कि

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App