सिलचर: असम में एक सेक्स स्कैंडल का पर्दाफास हुआ है. जिसमें राज्य के तीन विधायकों का नाम भी सामने आ रहा है. जिसमें दो बीजेपी के और एक AIUDF पार्टी से हैं. पुलिस एफआईआर में जिन तीन विधायकों के नाम शामिल हैं उनमें बीजेपी से अमिनुल हक लस्कर और किशोर नाथ हैं जबकि एक अन्य पार्टी से निजाम उद्दीन चौधरी का नाम है. पुलिस ने इस मामले के तह तक जाने के लिए जांच शुरू कर दी है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबकि इस सेक्स रैकेट का खुलासा तब हुआ जब कथित तौर पर इसमें शामिल दो महिलाएं भाग निकलने में सफल रही और उन्होंने इसकी पुलिस में प्राथमिकी दर्ज कराई. महिला की ओर से दर्ज कराए गए एफआईआर में इन तीनों विधायक का नाम भी शामिल है. महिलाओं ने आरोप लगाया है कि उन्हें मेहरपुर के पुष्प विहार लेन में एक घर में ले जाकर सेक्स रैकेट चलाया जा रहा था. गुरुवार की रात पुलिस ने उस महिला को भी गिरफ्तार कर लिया है जिस पर कथित तौर पर सेक्स रैकेट चालने का आरोप है.

इसके साथ-साथ दो और को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है. कचर एसपी राकेश रोशन ने कहा कि शुक्रवार को तीनों को अदालत में पेश किया गया था, जिसमें कहा गया था कि दो अन्य आरोपी बड़े थे. इसके साथ-साथ एफआईआर में तीन विधायकों का नाम भी है. लेकिन उनको आरोपी की जगह कस्टमर बताया गया है. एसपी ने कहा कि हम इस पूरे मामले की गंभीरता से जांच कर रहे हैं, कानून के हिसाब से जो उचित होगा वो किया जाएगा.

अपने उपर लगे आरोपों को खारिज करते हुए अमिनुल हक लस्कर ने कहा कि 8 दिसंबर, 2006 को एक टोनी मजूमदार ने मुझे मारने की कोशिश की थी वह उस महिला का दामाद है जो कथित तौर पर रैकेट चलाता है. ऐसे में क्या कोई विश्वास कर सकता है कि उस आदमी के घर मैं जा सकता हूं जिसने मुझे मारने की कोशिश की है.

विधायक ने इस मामले के तह तक जाने के लिए एसपी से उच्च स्तरीय जांच की मांग की है. जबकि दूसरे विधायक चौधरी ने कहा है कि मैं हाजी हूं और एक धार्मिक व्यक्ति हूं. कोई भी विश्वास नहीं करेगा कि मैं ऐसी गतिविधियों में शामिल हो सकता हूं. उन्होंने आरोप लगाया है कि सेक्स स्कैंडल में उनका नाम आने के पीचे उनके ही विधानसभा के एजीपी कार्यकर्ता का अफताब उद्दीन का हाथ है.

देवरिया बालिका गृह मामला: कौन हैं वो सफेदपोश जो रात के अंधेरे में छोटी-छोटी बच्चियों का जिस्म नोचने आते थे?

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप केसः जंतर-मंतर पर धरने से पहले तेजस्वी यादव ने साधा नीतीश कुमार पर निशाना, CM के नाम लिखा खुला खत

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App