Saturday, December 10, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 

गुजरात में भाजपा की प्रचंड जीत पर क्या बोला विदेशी मीडिया ?

0
गांधीनगर. बीते दिन गुजरात और हिमाचल चुनाव के नतीजे आए हैं. गुजरात में भाजपा ने भारी बहुमत के साथ जीत हासिल की है. भाजपा...

पठान: फिल्म का पहला गाना बेशर्म रंग, गोल्डन बिकनी में दीपिका ने दिखाया जादू

0
मुंबई: शाहरुख खान इन दिनों खूब चर्चा में है और उतनी ही चर्चा में हैं उनकी फिल्म पठान। मेकर्स फिल्म को लेकर दर्शकों को...

गुजरात-हिमाचल के नतीजों का राजस्थान कनेक्शन, गहलोत नपेंगे?

0
नई दिल्ली. गुजरात और हिमाचल प्रदेश चुनाव के नतीजे आ गए हैं, एक राज्य में कांग्रेस को मुंह की खानी पड़ी तो वहीं दूसरे...
vaani kapoor

इस एक्ट्रेस के बेटे ने ही कर दी माँ की हत्या, नदी में फेंका...

0
मुंबई: सोशल मीडिया पर आए दिन कुछ न कुछ वायरल होता रहता है। कुछ दिनों से जुहू में एक 74 वर्षीय महिला की हत्या...

बिग बॉस 16: शहनाज को देखकर सलमान खान को आया सीजन-13 याद, अभिनेत्री से...

0
मुंबई; बिग बॉस 16 के अपकमिंग एपिसोड में शहनाज गिल अपना नया गाना घनी सयानी’ का प्रमोशन करने पहुंची थी। जी हाँ! अभिनेत्री उसी...

मेघालयः हिंसा के बाद 7 जिलों में 48 घंटों के लिए मोबाइल इंटरनेट बंद

गुवाहाटी. असम-मेघालय बॉर्डर पर एक बार फिर तनाव की स्थिति बन गई है, असम के पश्चिम कार्बी आंगलोंग और मेघालय सीमा पर एक बार मामला हिंसा भड़क गई है. तकरीबन 300 लोगों ने असम की पुलिस और वन विभाग के कर्मियों पर हमला कर दिया, जिसके जवाब में पुलिस को भीड़ को शांत करवाने के लिए गोलियां चलानी पड़ी. बताया जा रहा है कि पुलिस की जवाबी कार्रवाई में मेघालय के पांच लोगों की मौत हो गई, जबकि इस हमले में एक वन कर्मी भी शहीद हो गया है. दरअसल, पुलिस और वन विभाग प्रशासन ने तस्करी के काठ का काम करने वाले लोगों के खिलाफ एक अभियान चलाया था, जिसके बाद यह पूरी घटना हुई.

ये है मामला

असम-मेघालय सीमा से सटे पश्चिम कार्बी आंगलांग से अवैध रूप से लकड़ियों की तस्करी की जा रही थी, जिसके खिलाफ पुलिस और वन विभाग प्रशासन ने अभियान चलाया था. जैसे ही पुलिस और वन विभाग की टीम पहुंची, कुछ लोग अचानक आए और धारदार हथियारों से उनपर हमला बोल दिया. लोगों के हमले को रोकने के लिए पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग की, हमलावरों पर काबू पाने के लिए पुलिस ने कई राउंड फायरिंग की, जिसमें मेघालय के 5 लोगों की मौत हो गई.

असम-मेघालय सीमा पर बढ़ती हिंसा को देखते हुए मेघालय सरकार ने 7 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद कर दी हैं. सरकार के आदेश के मुताबिक इन 7 जिलों में इंटरनेट सेवा 22 नवंबर से लेकर 48 घंटे के लिए बंद रहेगी.

इस घटना में वन विभाग का एक कर्मी भी शहीद हो गया है, इसके अलावा इस हमले में 10 से 12 पुलिसकर्मी घायल बताए जा रहे हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब वन विभाग ने तस्करी के काठ जब्त किए, तभी गुस्साएं लोगों ने उनपर हमला कर दिया था. इस घटना के बाद से पूरे इलाके में तनाव की स्थिति बन गई है. सुरक्षाबलों की एक बड़ी टीम इलाके में भेजी गई है ताकि कोई भी अप्रिय घटना न हो. अब तक मिली जानकारी के मुताबिक, पुलिस द्वारा लकड़ी ले जा रहे एक ट्रक को मंगलवार तड़के रोकने के बाद हिंसा भड़क गई.

सत्येंद्र जैन को मसाज देने वाला शख्स है रेप का आरोपी’- बीजेपी का दावा

Gujarat Election 2022: आज गुजरात में भाजपा का ‘मेगा शो’, अमित शाह ताबड़तोड़ रैलियां करेंगे संबोधित

Latest news