नई दिल्ली. देश भर में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है. देश के छात्र भी इस विरोध प्रदर्शन में सड़कों पर उतर आए हैं और सीएए से आजादी की मांग कर रहे हैं. वहीं इसी बीच कांग्रेस नेता और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी अपनी राय रखी है. अशोक गहलोत ने ट्वीट करके कहा नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) ने हिन्दू और मुसलमान सहित सभी समुदाय को सकते में डाल दिया है. यह सबको परेशान करने वाला एक्ट है, पश्चिम बंगाल, बिहार, पंजाब, राजस्थान, केरल, उड़ीसा, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ सहित आठ से अधिक राज्य इसे लागू नहीं कर रहे. एनडीए को चाहिए इसे तुरंत रिपील (निरस्त) करे.

इसके साथ ही उन्होंने एक और ट्वीट करते हुए कहा कि मैं कई बार कह चुका हूँ #CitizenshipAmmendmentAct और #NRC पूरे देश में लागू नहीं हो सकते ये प्रैक्टिकल ही नहीं है. विपक्षी पार्टियों के विरोध और सलाह के बावजूद बहुमत के अभिमान में CAB एक्ट तो बन गया परन्तु आज पूरे देश में सभी समुदाय के छात्र और युवा सड़कों पर क्यों उतर रहे हैं?

इसके साथ ही उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह पर भी निशाना साधते हुए कहा पूरे मुल्क में बार-बार गृह मंत्री अमित शाह जी बोल-बोल कर लोगों को भड़का रहे है. पिछले एक महीने से मैं देख रहा हूं लगातार वो पूरे देशवासियों को भड़का रहे है कि मैं पूरे मुल्क में NRC लागू करुंगा,एक तानाशाही प्रवृत्ति की जो भाषा होती है,वो बोलते है. ये लोकतंत्र में अच्छी बात नहीं है.

इसके साथ ही अशोक गहलोत ने कहा कि इनका एजेंडा लोकतंत्र की परम्पराओं और संविधान की मूल भावना से हटकर है. कोई कारण नहीं था संविधान में संशोधन करवा दिया. एनआरसी की बात कर रहे हैं, जो लागू हो ही नहीं सकता, प्रैक्टिकल नहीं है. असम में करके देख लिया, वहां इनकी खुद की गवर्मेंट हैं. वो कह रही है, ये हमें मंजूर नहीं है.

ये भी पढ़ें

नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ देशभर में हिंसक प्रदर्शन, दिल्ली में प्रदर्शनकारियों ने गाड़ियों में लगाई आग, यूपी में हिंसा के बाद 6 लोग मारे गए

अखिलेश यादव को बड़ा झटका, CAA विरोध प्रदर्शन के दौरान संभल में भड़की हिंसा को लेकर सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क के खिलाफ एफआईआर दर्ज

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App