Friday, December 9, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 

 Green Tea पीने के फायदे जानकर, आज से पीना कर देंगे शुरू

0
Green tea benefits: ग्रीन टी (Green tea) से होने वालों फायदों को लेकर तमाम दावे किए जाते हैं. कुछ लोग कहते हैं कि ग्रीन...

इन सवालों से समझें पूरे गुजरात चुनाव का गणित: क्यों AAP का दिल्ली मॉडल...

0
गाँधीनगर: यदि गुजरात में इस ऐतिहासिक भाजपा जीत के पीछे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के अलावा कोई महत्वपूर्ण कारण है, तो वह है...

Himachal Election Result 2022: अन्य के खाते में आई 3 सीटे, जाने किसने की...

0
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से आगे निकल गई है।कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।...

हिमाचल से जीतने के बाद कांग्रेस विधायकों की चंडीगढ़ में बैठक, राजस्थान या छत्तीसगढ़...

0
नई दिल्ली: हिमाचल प्रदेश के कांग्रेस विधायक दल की बैठक चंडीगढ़ में होगी। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक पहले यहां चंडीगढ़ में जीते हुए विधायक...

Himachal Election Result 2022: कांग्रेस ने मारी बाजी, जाने हर सीट के नतीजे

0
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से आगे निकल गई है। कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।...

UP में मदरसों के सर्वे पर भड़के ओवैसी, कहा- एक बार में आदेश दे कि निकल जाएं!

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने गैर-मान्यता प्राप्त मदरसों के सर्वेक्षण का फैसला लिया है, अब सरकार के इस फैसले पर विवाद भी शुरू हो गया है और असदुद्दीन ओवैसी भी इसमें कूद गए हैं. योगी सरकार के फैसले पर नाराज़गी जताते हुए ओवैसी ने कहा कि एक बार में आदेश क्यों नहीं जारी कर दीजिए कि सारे मुस्लमान निकल जाएं. उन्होंने कहा कि योगी सरकार का यह फैसला मनमाना है और मुसलमानों को शक की नजर से देखने की कोशिश की जा रही है. ओवैसी ने इस फैसले को मिनी एनआरसी बताया है. ओवैसी ने कहा कि सरकार जिन मदरसों को योगी सरकार कोई मदद नहीं करती है तो उनकी जांच करवाने का भी सरकार को कोई हक़ नहीं है.

ओवैसी ने क्या कहा

ओवैसी ने कहा कि जिन मदरसों से सरकार का कोई लेना-देना ही नहीं है उनकी जांच करवाने से क्या होगा? मान्यता प्राप्त मदरसों को ही सरकार मदद करती है और उन्हीं ही जांच करवा सकती है तो फिर ये क्यों किया जा रहा है? उन्होंने आगे कहा कि संविधान के आर्टिकल 30 के तहत अल्पसंख्यकों को अपने संस्थान चलाने का हक है. उन्होंने कहा कि यह सर्वे नहीं है बल्कि छोटा एनआरसी है, ये सिर्फ लोगों को परेशान करने के लिए किया जा रहा है.

योगी के मंत्री ने बताया क्यों करवाया जा रहा सर्वेक्षण

इस मामले पर विवाद बढ़ने पर योगी सरकार के अल्पसंख्यक मंत्री दानिश अंसारी ने बताया कि आखिर मदरसों का सर्वेक्षण क्यों करवाया जा रहा है, इसके पीछे सरकार का मकसद क्या है? दानिश आजाद अंसारी ने कहा कि हम यह सर्वे इसलिए करना चाहते हैं ताकि छात्रों की संख्या पता चल सके, किसी भी तरह का डेटा हमारे सामने होगा, तभी तो हम योजनाओं को आसानी से तैयार कर पाएंगे. उन्होंने कहा कि इस मामले में सपा और बसपा की ओर से भ्रम फैलाया जा रहा है. गौरतलब है कि यूपी में गैर मान्यता प्राप्त मदरसों का सर्वे करवाया जाना है और इसके लिए शासन के उप सचिव शकील अहमद सिद्दीकी की ओर से एक आदेश जारी किया गया है, जिसमें कहा गया है कि 10 सितंबर तक इस सर्वे के लिए टीम गठित कर दी जाएगी.

 

Delhi: दिल्ली में ‘दुमका’ जैसी वारदात! सनकी आशिक ने बीच सड़क पर छात्रा को मारी गोली

Latest news