लखनऊ. भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) उत्तर प्रदेश की ओर से अरविंद राज त्रिपाठी उर्फ छोटू त्रिपाठी को प्रदेश मंत्री बनाए जाने पर बवाल हो रहा है।

छोटू त्रिपाठी के खिलाफ 16 मुकदमे दर्ज हो चुके और उनकी हिस्ट्रीशीट खुल चुकी है। हालांकि छोटू त्रिपाठी का दावा है कि इसमें से 15 केस में वह बरी हो चुके हैं, जबकि एक केस हाई कोर्ट में विचाराधीन है।

सोमवार को भाजयुमो ने छोटू त्रिपाठी को प्रदेश मंत्री बना दिया। इसके बाद उनके हिस्ट्रीशीटर होने के दावे किए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि उनके ऊपर कानपुर के एक थाने में 16 मामले दर्ज हैं। हालांकि छोटू त्रिपाठी का कहना है कि मेरे ऊपर विरोधी पार्टियों ने केस दर्ज कराये थे।

छोटू त्रिपाठी की सफाई अपनी जगह है, लेकिन उनके ऊपर अब तक दर्ज हो चुके 16 केस और उनके हिस्ट्रीशीट होने की बात अब खुद बीजेपी के अंदर चर्चा का विषय बनी हुई है।

CBSC Results 2021: सीबीएसई 10वीं के नतीजे घोषित, 99.04% पास, यहां देखें रिजल्ट

Tokyo Olympic 2020: हॉकी में भारत का सफर खत्म, सेमीफाइनल में भारत को 5-2 से हराकर बेल्जिम पहुंचा फाइनल में

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर