नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए उनकी सरकार की शहर में तत्काल लॉकडाउन की कोई योजना नहीं है।
पत्रकारों से बात करते हुए, केजरीवाल ने कहा, “हम लॉकडाउन नहीं लगाना चाहते हैं, अगर आप मास्क पहनेंगे तो हम नहीं लगाएंगे। अभी तक लॉकडाउन का कोई इरादा नहीं है।”

रविवार को आएंगे 22,000 कोविड -19 मामले 

केजरीवाल ने यह भी कहा कि दिल्ली में रविवार को 22,000 कोविड -19 मामले दर्ज होने की संभावना है। उन्होंने कहा कि बढ़ते मामले चिंताजनक हैं लेकिन डरने की जरूरत नहीं है। मैं पिछली लहर के आंकड़ों का विश्लेषण (तुलना) करने के बाद ऐसा कह रहा हूं।
सीएम ने कहा कि एल-जी सर और मैं पूरी स्थिति पर नजर रख रहे हैं। कल डीडीएमए की बैठक है और हम स्थिति की समीक्षा करेंगे।

उन्होंने कहा कि हम केंद्र सरकार के लगातार संपर्क में हैं और हमें केंद्र सरकार से पूरा समर्थन मिल रहा है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा किमुझे भी कोरोना हो गया। मुझे लगभग दो दिनों से बुखार था लेकिन उसके बाद मैं ठीक हो गया। मैं लगभग 7-8 दिनों तक होम आइसोलेशन में रहा, लेकिन संपर्क में रहा और फोन पर दिल्ली के हालात पर नजर रखते थे।”
दिल्ली के सीएम ने कहा कि पिछले साल अप्रैल-मई में पिछली लहर की तुलना में इस बार मौतों और अस्पताल में भर्ती होने वालों की संख्या बहुत कम है।

केजरीवाल ने कहा कि जब 7 मई, 2021 को रोजाना 20,000 कोरोना के मामले थे, तब 341 मौतें हुई थीं। उन्होंने कहा कि 8 जनवरी, 2022 को इतने ही मामलों के साथ केवल सात मौतें हुईं।
उन्होंने आगे कहा कि 7 मई को दिल्ली में 20,000 बेड भरे हुए थे लेकिन कल करीब 1,500 बेड भरे हुए थे.
केजरीवाल ने लोगों से कोविड -19 वैक्सीन लेने का भी आग्रह किया। “टीकों का मतलब यह नहीं है कि आप संक्रमित नहीं होंगे। लेकिन उन्हें लेने से आपके जीवन का जोखिम कम हो जाता है।”

Delhi CM : केजरीवाल हुए कॉरोना से ठीक, ट्वीट करके बोले, सेवा में हाजिर हूं.

Bulli Bai App: मास्टर माइंड नीरज बिश्नोई ने की आत्महत्या की कोशिश, पुलिस ने बताया इमोशनलेस और चालाक युवक

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर