मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार दिल्ली में बढ़ रहे कोरोना के मामलों पर बेहद गंभीर और सतर्क है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज सुबह दिल्ली सचिवालय में कोरोना को लेकर आपात बैठक की और उन्होंने सरकारी और निजी अस्पतालों में कोविड बेड़ बढ़ाने के निर्देश दिए। सीएम की अध्यक्षता में हुई बैठक में दिल्ली के कई सरकारी और निजी अस्पतालों को फिर से पूरी तरह से कोविड अस्पताल बनाने का निर्णय लिया गया। साथ ही केंद्र सरकार के अस्पतालों में भी कोविड बेड बढाने के लिए दिल्ली सरकार संपर्क करेगी। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमने सरकारी और निजी अस्पतालों में बेड बढ़ाने के लिए कई कदम उठाने के निर्णय लिए हैं और इसमें सभी से सहयोग की अपील की है। सीएम ने दिल्ली के लोगों से अपील करते हुए कहा कि सभी लोग कोविड के लिए जारी प्रोटोकाल का पालन करें, बहुत जरूरी होने पर ही अस्पताल जाएं और पात्र लोग वैक्सीन अवश्य लगवाएं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में दिल्ली सचिवालय में कोरोना को लेकर आयोजित आपात बैठक में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, मुख्य सचिव, अपर मुख्य सचिव, मुख्य सचिव (स्वास्थ्य), सचिव (स्वास्थ्य) के अलावा स्वास्थ्य विभाग के सभी वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे। बैठक में सीएम अरविंद केजरीवाल ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से दिल्ली में कोरोना की मौजूदा स्थिति की अपडेट प्राप्त की। अधिकारियों ने सरकारी और निजी अस्पतालों में उपलब्ध और मरीजों से भरे बेड की विस्तृत जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने दिल्ली में बढ़ते कोरोना के मामलों पर गंभीर चिंता जताई। उन्होंने कहा कि हमें कोरोना के संक्रमण को नियंत्रित करने के साथ ही संक्रमित लोगों को अच्छा से अच्छा इलाज मुहैया कराना है। अधिकारियों ने बताया कि अस्पतालों में कोविड मरीजों के आने की संख्या बढ़ रही है। अभी अस्पतालों में बेड पर्याप्त है, लेकिन मरीजों से बेड़ भरते जा रहे हैं।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोविड मरीजों को किसी भी हालत में अस्पतालों में बेड की किल्लत नहीं होनी चाहिए। कोरोना की यह चैथी लहर पिछली लहर से अधिक खतरनाक है। दिल्ली कोरोना केस के मामले में प्रतिदिन एक नया रिकार्ड बना रही है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि सरकारी और निजी अस्पतालों में कोविड के बेड युद्ध स्तर पर बढ़ाए जाएं। हमें अभी अस्पताल प्रबंधन को पिछले साल नवंबर माह में आई पिक के स्तर पर लेकर जाना है। कोरोना की मौजूदा स्थिति को मद्देनजर रखते हुए हमें एक बार फिर युद्ध स्तर पर उसी स्तर की तैयारियां करनी है और बेड की संख्या बढ़ानी है। बता दें कि पिछले साल नवंबर महीने में आई पिक के दौरान सरकारी और निजी अस्पतालों में 18 हजार से अधिक कोविड बेड बनाए गए थे।

सीएम ने कहा कि केंद्र सरकार के भी दिल्ली में कई अस्पताल हैं। पिछली पिक के दौरान केंद्र सरकार के अस्पतालों में कोविड बेड बनाए गए थे। सीएम ने केंद्र सरकार के अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाने के लिए उनसे संपर्क करने के निर्देश दिए। सीएम ने यह स्पष्ट किया कि अभी तत्काल में दिल्ली के सरकारी और निजी अस्पतालों में उतने बेड बढ़ाए जाएं, जितने पिछले साल नवंबर में थे। उसके बाद यदि उन अस्पतालों में बेड बढ़ाने की गुंजाइश होती है, तो उनसे और बेड़ बढ़ाने की अपील की जाएगी। हमें यह प्रयास करना है कि अस्पतालों में कोविड बेड अधिक से अधिक बढ़ाएं जाएं। बैठक में यह भी निर्णय लिया कि दिल्ली के कुछ सरकारी और निजी अस्पतालों को पिछले साल की तरह एक बार फिर पूरी तरह से कोविड अस्पताल बनाया जाएगा। इन अस्पतालों में सिर्फ कोरोना मरीजों का इलाज किया जाएगा। इस संबंध में मुख्यमंत्री ने अस्पतालों को भरोसे में लेकर शीघ्र आदेश जारी करने के निर्देश दिए। इससे दिल्ली में कोविड बेड की संख्या काफी बढ़ जाएगी।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमारा पूरा प्रयास है कि सभी लोगों को अस्पताल में अच्छा इलाज मिले। सीएम ने दिल्ली निवासियों से अपील करते हुए कहा कि अगर आप कोरोना पाॅजिटिव हैं, लेकिन आप में कोरोना के लक्षण हल्के हैं या बहुत कम है, तो आप घर पर रह कर ही होम आइसोलेशन में इलाज कराएं। इस दौरान हमारे डाॅक्टर कई बार फोन करके आपके स्वास्थ्य की जानकारी लेंगे और अगर आपको अस्पताल की जरूरत पड़ती है, तो तत्काल अस्पताल के लिए रेफर किया जाएगा। बहुत जरूरी होने पर ही आप अस्पताल जाएं। सीएम ने सभी लोगों से अपील की है कि कोविड प्रोटोकाल का पूरी तरह से पालन करें। हमेशा मास्क पहन कर रखें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और सैनिटाइजर या साबून से बार-बार अपने हाथों को धोते रहें, ताकि संक्रमण के फैलाव को रोका जा सके। उन्होंने यह भी अपील की कि जो लोग वैक्सीन लगवाने के लिए पात्र हैं, वे लोग सेंटर पर जाकर अवश्य वैक्सीनेशन कराएं।

हमने केंद्र सरकार से अपने अस्पतालों में 4 हजार कोविड बेड बढ़ाने का अनुरोध किया है- सत्येंद्र जैन

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि पिछले साल नवंबर में आई पिक के दौरान दिल्ली के सरकारी और निजी अस्पतालों में 18 हजार कोविड बेड बनाए गए थे। हम एक बार फिर उसी स्तर की तैयारियां कर रहे हैं। हमने केंद्र सरकार से अनुरोध किया है कि केंद्र सरकार के अस्पतालों में कोविड बेड बढ़ाए जाएं। अभी केंद्र सरकार के अस्पतालों में 1,090 कोविड बेड उपलब्ध हैं, जबकि नवंबर में केंद्र सरकार के अस्पतालों में 4 हजार से अधिक कोविड बेड थे। हमने केंद्र सरकार से 4 हजार तक कोविड बेड बढ़ाने के लिए अनुरोध किया है।

 

Atishi Appointed ICLE Global Vice President: आम आदमी पार्टी की विधायक आतिशी को वैश्विक संस्था आईसीएलईआई का उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया

Haridwar Corona Update: हरिद्वार कुंभ में कोरोना के मामलों में जबरदस्त उछाल, एक दिन में मिले 400 से ज्यादा केस

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर