Amit Shah on terrorist attacks

नई दिल्ली. Amit Shah on terrorist attacks आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान के खिलाफ कड़ा रुख अख्तियार करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को कहा कि भारत द्वारा पांच साल पहले किए गए सर्जिकल स्ट्राइक ने दुनिया को एक कड़ा संदेश दिया है कि कोई भी उसकी सीमाओं में हस्तक्षेप नहीं कर सकता है।

भारत आतंकवादी हमलों का मुंहतोड़ जवाब देता है

उन्होंने कहा कि भाजपा नीत राजग शासन में भारत आतंकवादी हमलों का मुंहतोड़ जवाब देता है, जबकि कांग्रेस नीत संप्रग सत्ता में थी तो ऐसा नहीं था। शाह दक्षिण गोवा के धारबंदोरा गांव में राष्ट्रीय फोरेंसिक विज्ञान विश्वविद्यालय की आधारशिला रखने के बाद एक सभा को संबोधित कर रहे थे।

यूपीए सरकार के दौरान सीमा पार से आतंकवादी भारत में घुसपैठ करते थे

उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार के दौरान सीमा पार से आतंकवादी भारत में घुसपैठ करते थे और अशांति फैलाते थे और दिल्ली कुछ नहीं करती थी, लेकिन अब भारत उसी भाषा में जवाब देता है, जिसे वे (आतंकवादी) समझते हैं।

2016 की सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि भारत ने सैन्य कार्रवाई के जरिए पूरी दुनिया को कड़ा संदेश दिया कि कोई भी उसकी सीमाओं में दखल नहीं दे सकता। भारत ने 29 सितंबर, 2016 को जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में सेना के अड्डे पर आतंकवादी हमले के जवाब में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पार सर्जिकल स्ट्राइक की थी।

मनोहर पर्रिकर के योगदान को याद किया

शाह ने रक्षा मंत्री के रूप में भाजपा के दिग्गज दिवंगत मनोहर पर्रिकर के योगदान को याद किया। गृह मंत्री ने कहा कि पर्रिकर और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सशस्त्र बलों में वन रैंक वन पेंशन (ओआरओपी) शुरू करने के लिए वर्षों तक याद किया जाएगा।

उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सशस्त्र बलों के तीनों अंगों के लिए वन रैंक वन पेंशन शुरू करने के लिए पर्रिकर को याद किया जाएगा।”

Goa Assembly Election : गोवा विधानसभा चुनाव में भाजपा पूर्ण बहुमत से जीतेगी और फिर से सरकार बनाएगी: अमित शाह

Charanjit Singh Channi Meet Capt Amarinder Singh : दिल्ली में सिद्धू के साथ, पंजाब के सीएम चन्नी ने कैप्टन अमरिंदर से मुलाकात की

Spying For ISI सेना की सूचना लीक करने के आरोप में फौजी गिरफ्तार, 22 तक रिमांड पर