नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बुधवार को पटना पहुंचेंगे. लोकसभा चुनावों के मद्देनजर अमित शाह का यह दौरा काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. बिहार में एनडीए के सहयोगी दलों में टिकट बंटवारे पर सहमति और चुनावी रणनीति को लेकर अमित शाह मीटिंग करेंगे. अमित शाह का यह दौरा काफी व्यस्तताओं भरा रहेगा. वे सुबह 10 बजे पटना के लोकनायक जयप्रकाश नारायण अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरने के बाद से रात तक व्यस्त रहेंगे.

बिहार में लालू यादव का साथ छोड़कर बीजेपी के साथ मिलकर नीतीश कुमार के सरकार बनाने के बाद अमित शाह का ये पहला बिहार दौरा है. जेडीयू ने बड़े भाई और ज्यादा सीट नहीं को लेकर दबाव बना रखा है. ऐसे में अमित शाह सुबह के नाश्ते से लेकर रात के डिनर तक बिहार में लोकसभा चुनाव के सीटों का बंटवारा निपटा लेंगे, ऐसी संभावना है. अगर सब कुछ फाइनल ना भी हो तो मोटा-मोटी सहमति बन जाएगी, इतनी उम्मीद है. नीतीश को कांग्रेस ने ना कह दिया है और लालू पहले से दरवाजा बंद करके बैठे हैं इसलिए नीतीश के पास अमित शाह की सुनने और बीजेपी की मानने के अलावा बहुत विकल्प नहीं है.

अमित शाह के दौरे को लेकर पटना में बीजेपी कार्यालय में तैयारियां जोरों पर हैं. सुबह 10 बजे पटना पहुंचने के बाद वे राजकीय अतिथिशाला पहुंचेंगे जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ जलपान करेंगे. इसके बाद बापू सभागार में 11.30 बजे से 12.30 बजे तक सोशल मीडिया की बैठक में भाग लेंगे. इसके बाद दोपहर 12.45 बजे से 1.45 बजे तक ज्ञान भवन में विस्तारकों की बैठक में शामिल होंगे और वहीं दोपहर का भोजन करेंगे.

दोपहर 2.30 बजे से 3.30 बजे तक अमित शाह बापू सभागार में शक्ति केंद्र प्रभारियों के साथ बैठक करेंगे. इसके बाद शाम 4.00 बजे से 7.00 बजे तक वे चुनाव तैयारी समिति की मीटिंग में शरीक होंगे. दिन भर व्यस्त रहने के बाद वे मुख्यमंत्री आवास पर नीतीश कुमार के साथ डिनर करेंगे. 13 जुलाई को अमित शाह दिल्ली प्रस्थान कर जाएंगे.

जारी रहेगा बीजेपी-जेडीयू गठबंधन, बिहार में नीतीश कुमार 17 लोकसभा सीटों पर लड़ेंगे चुनाव

जेडीयू बोली- भ्रष्ट राजद पर विचार करे कांग्रेस, जवाब मिला- महागठबंधन में नीतीश कुमार की कोई जगह नहीं

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App