Thursday, February 2, 2023
spot_img

स्वामी प्रसाद मौर्य द्वारा रामचरितमानस पर की गई टिप्पणी से अखिलेश यादव नाराज

लखनऊ। श्री रामचरित मानस को लेकर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के द्वारा की गई टिप्पणी पर समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव का बयान आया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अखिलेश यादव स्वामी प्रसाद मौर्य की टिप्पणी को लेकर नाखुश हैं।

अखिलेश समेत सभी विधायक नाराज

रामचरित मानस पर की गई टिप्पणी को लेकर अखिलेश यादव के अलावा पार्टी के कई बड़े नेताओं ने भी मौर्य के इस बयान से खुद को दूर कर लिया है। नेताओं ने इस बयान को स्वामी प्रसाद मौर्य का निजी बयान बताते हुए पार्टी को इस मामले से अलग रखा है।

इसके अलावा समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और पार्टी के विधायक रविदास मल्होत्रा ने कहा कि स्वामी प्रसाद मौर्य का बयान उनके निजी विचार हैं न कि पार्टी का बयान। मौर्य के द्वारा दिए गए बयान की बात अध्यक्ष अखिलेश यादव तक पहुंचा दी गई है और उनके खिलाफ जल्द कोई कार्रवाई की जाएगी।

बता दे मीडिया से बात करते हुए स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा था कि, मुझे रामचरित मानस के साथ किसी तरह की समस्या नहीं है, लेेकिन इस किताब के कुछ हिस्सों में विशेष जातियों और संप्रदायों को लेकर काफी अपमानजनक टिप्पणियां की गई है, जिसको हटा देना चाहिए, साथ ही उन्होंने दावा किया कि तुलसीदास द्वारा रचित रामचरितमानस में दलित समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का भी काम किया गया है।

टिप्पणी पर भाजपा ने की थी आलोचना

बता दें, भाजपा ने मौर्य द्वारा की गई टिप्पणियों पर समाजवादी पार्टी की आलोचना की थी। वहीं मामले पर यूपी बीजेपी प्रमुख भूपेंद्र सिंह चौधरी ने कहा था कि, स्वामी प्रसाद मौर्य जैसे लोग विक्षिप्त हैं। अखिलेश यादव को स्पष्ट करना चाहिए कि यह उनकी पार्टी का विचार है या स्वामी प्रसाद का निजी विचार है।

Latest news