काफी वक्त से बीमार चल रहे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को फोन कर अस्थाई तौर पर मुख्यमंत्री पद किसी और को सौंपने को निवेदन किया है. पर्रिकर पिछले 7 महीनों से गंभीर बीमारी की चपेट में हैं जिसका इलाज वह अमेरिका में करवा रहे हैं और पिछले हफ्ते 6 सितंबर को वो भारत वापस आए हैं. भारत आने के बाद हुई मेडिकल जांच के बाद गुरुवार को उन्हें गोवा से 15 किलोमीटर दूर कैंडोलिम के एक स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया था जिसके बाद खबर है कि पर्रिकर फिर एक बार इलाज के लिए अमेरिका वापस जाने वाले हैं.

शुक्रवार को मनोहर पर्रिकर ने बीजेपी अध्यक्ष को फोन कर राज्य में वैकल्पिक व्यवस्था कराने का अनुरोध किया था जिसके बाद बीजेपी ने गोवा में पर्रिकर का मुख्यमंत्री पद के लिए एक अस्थाई चेहरा खोज रही है. पार्टी सूत्रों के मुताबिक बीजेपी वरिष्ठ नेता विजय पुराणिक को गोवा में पर्यवेक्षक बनाकर भेज रही है जिसमें पुराणिक के साथ बीजेपी के संगठन सचिव बीएल संतोष भी गोवा जाएंगे.

सूत्रों की मानें तो मनोहर पर्रिकर के अस्थाई विकल्प के तौर पर रामकृष्ण सुदीन धवलीकर को अगले 18 महीनों के लिए गोवा का मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है. धवलीकर गोवा में भाजपा की सहयोगी महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी से आते हैं जो वर्तमान में सीएम पर्रिकर के कैबिनेट में सबसे सीनियर मंत्री हैं. सूत्रों के मुताबिक पार्टी ने अभी तक धवलीकर के नाम पर मुहर नहीं लगाई है लेकिन मुख्यमंत्री पद की दौड़ में वे सबसे आगे दिख रहे हैं हालांकि पर्यवेक्षक दल द्वारा अपनी रिपोर्ट देने के बाद ही बीजेपी इसपर कोई फैसला देगी.

दूसरी तरफ गोवा विधानसभा उपाध्यक्ष और बीजेपी विधायक माइकल लोबो ने अस्थाई मुख्यमंत्री की खबरों पर विराम लगाते हुए कहा कि उन्होंने सीएम मनोहर पर्रिकर से कैंडोलिम के अस्पताल में मुलाकात की थी और अब वह ठीक हैं उन्होंने कहा, मनोहर पिछले हफ्ते ही अमेरिका से इलाज कराकर भारत लौटे हैं. लौटने के बाद से ही उन्होने किसी सरकारी बैठक में भाग नहीं लिया है. इसके अलावा गोवा मुख्यमंत्री कार्यालय के सूत्रों के मुताबिक मनोहर पर्रिकर ठीक हैं और अपने घर से ही कामकाज देखते हुए फाइलें निपटा रहे हैं.

अगस्त से गोवा में सार्वजनिक जगहों पर शराब पीने पर लगेगा 2500 रुपये का जुर्माना: मनोहर पर्रिकर

2 महीने में घट गए BJP के 3 करोड़ सदस्य, अमित शाह के इन बयानों से पैदा हुआ भ्रम

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App