Sunday, September 25, 2022

कानपुर हिंसा को लेकर प्रशासन सख्त, अब दंगाईयों की खैर नहीं

कानपुर। शुक्रवार को कानपुर में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी के दौरान दंगों और हिंसा के मामले में पुलिस ने पथराव करने वालों पर नकेल कसने के साथ-साथ कारण भी तलाशना शुरू कर दिया है। बेकनगंज थाना क्षेत्र की इस घटना को लेकर एसआईटी का गठन किया गया है, इसके साथ ही टेरर फंडिंग की भी जांच की जा रही है। बेकनगंज थाना पुलिस ने इस दौरान 40 पथराव करने वालों की फोटो भी होर्डिंग पर लगाई है़। शहर में इसके पोस्टर भी लगाए गए हैं।

पुलिस ने जारी किया नंबर

जब कानपुर पुलिस ने 3 जून की घटना में शामिल पथराव करने वालों की तस्वीरों वाला एक पोस्टर जारी किया, तो प्रतिक्रियाएँ आने लगीं। एक ने कहा है कि पकड़े जाएंगे और लॉकअप में हथकड़ी लगाएंगे, दंगाइयों को अब पूरी ताकत से गिरफ्तार किया जाएगा। कानपुर हिंसा मामले में पुलिस ने सीसीटीवी और वीडियो फुटेज खंगालने के बाद 40 संदिग्धों की तस्वीरें जारी कीं। कानपुर पुलिस ने जानकारी देने के लिए इंस्पेक्टर बेकनगंज का मोबाइल नंबर (9454403715) भी जारी किया। साथ ही मुखबिरों के नाम गुप्त रखने की घोषणा की।

होगी गहन जांच

कानपुर पुलिस नई सड़क के आसपास की ऊंची इमारतों की भी जांच करेगी। अशांति में इन इमारतों से पथराव की भी बात कही गई। हिंसा के दौरान पेट्रोल बमों का भी इस्तेमाल किया गया, जिसके बाद जिला प्रशासन ने इलाके के आसपास के पेट्रोल पंप को सील कर दिया है। उनके सीसीटीवी फुटेज की भी जांच की जा रही है। पुलिस ने 15 इंटरनेट मीडिया पर सोशल हैंडल के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है। इन सभी ट्विटर और फेसबुक अकाउंट पर सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने और सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने का आरोप है. फोरेंसिक टीम ने भी मौके का मुआयना किया है। टीम ने हर उस गली और सड़क का निरीक्षण किया है जहां से पथराव किया गया था।

गृह विभाग ने दिए ये निर्देश

उत्तर प्रदेश सरकार के गृह विभाग के निर्देश पर एसआईटी यानी विशेष जांच दल ने शुक्रवार को नई रोड और दादा मियां का हाता में गड़बड़ी की जांच शुरू कर दी है। एसआईटी अध्यक्ष डीसीपी साउथ संजीव कुमार त्यागी ने सोमवार को उपद्रव प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने पुलिस के साथ लोगों से घटना वाले दिन की जानकारी ली कि किस समय क्या हुआ था।

यह भी पढ़े-

KK की मौत पर बड़ा खुलासा: 2500 की क्षमता वाले हॉल में जुटे 5000 लोग, भीड़ हटाने के लिए छोड़ी गई गैस

Latest news