नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का एक संदेश अफसरों के अड़ंगे के कारण खटाई में पड़ गया है. दिल्ली में आम आदमी पार्टी के तीन साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री केजरीवाल ने एक वीडियो मैसेज रिकॉर्ड किया था, जो लोगों के बीच 10 फरवरी को प्रसारित किया गया था. इस संदेश में केजरीवाल की एक लाइन काफी हद तक अक्षय कुमार और परेश रावल की फिल्म ‘OMG ओह माय गॉड’ से मिलती है. वीडियो में केजरीवाल ने अपनी सरकार की तीन साल की उपलब्धियों का जिक्र किया और कहा कि मुश्किलें बहुत आई, लेकिन आपके हक के लिए हमने हर बाधा से मुकाबला किया. भगवान ने हर कदम पर साथ दिया क्योंकि जब आप सच्चाई और ईमानदारी के रास्ते पर चलते हैं तो इस ब्रह्मांड की दृश्य और अदृश्य शक्तियां आपकी मदद करती हैं.

इसी लाइन को मंजूरी देने में अफसरों का हलक सूख गया. इस वाक्य को नामंजूर करने के अफसरों ने जो तर्क दिए, उसे जानकर सीएम केजरीवाल हैरान-परेशान हैं.  बता दें कि फिल्म में कांजी लालजी मेहता यानी परेश रावल की दुकान प्राकृतिक आपदा (भूकंप) में ढह जाती है और उसे एक्ट अॉफ गॉड करार देकर बीमा कंपनी किसी तरह के नुकसान की भरपाई करने से इनकार कर देती है.अरविंद केजरीवाल के इस संदेश को वेरिफाई करने को किसी भी विभाग का अफसर तैयार नहीं है. वीडियो संदेश की लाइन भगवान और अदृश्य शक्तियों पर अफसरों ने कहा कि यह उनके विभाग के तहत नहीं आता.

लोकसत्य ने सूत्रों के हवाले से लिखा कि अरविंद केजरीवाल और अफसरों की एक मीटिंग भी हुई थी. अफसरों ने कहा कि वह भगवान का जिक्र करने को वेरिफाई कैसे करें. इस मामले में अब सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन में मौजूद तथ्यों के आधार पर ही क्लियरेंस मिलेगी. इसलिए संभावना जताई जा रही है कि वीडियो मैसेज वाला यह विज्ञापन अब ठंडे बस्ते में चला गया है.

यह है इस वीडियो मैसेज में: दिल्ली की आप सरकार के 14 फरवरी को तीन साल पूरे हो रहे हैं. इस मौके पर उन्होंने पार्टी की उपलब्धियों को गिनाने के लिए एक वीडियो मैसेज तैयार कराया है. केजरीवाल सरकार हर साल यह काम करती है. तय दिशा-निर्देशों के मुताबिक मुख्यमंत्री की ओर से जारी विज्ञापन के तथ्य विभिन्न विभागों से वेरिफाई कराने होते हैं. सीएम केजरीवाल ने इस वीडियो मैसेज में स्कूल, सड़कों और अस्पताल समेत अन्य विकास कार्यों का जिक्र किया.