पटना. बिहार में नियोजित शिक्षकों के एक दिवसीय बंद के कारण बुधवार को यातायात पर प्रतिकूल असर देखा जा रहा है. वेतनमान सहित विभिन्न मांगों को लेकर बिहार राज्य नियोजित शिक्षक संघर्ष मोर्चा ने एकदिवसीय बंद का आह्वान किया. प्रदर्शनकारी शिक्षकों ने विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर रेलगाड़ियों को रोका और कई स्थानों पर सड़कें जाम कर दी. 

प्रदर्शनकारी शिक्षकों ने शेखपुरा रेलवे स्टेशन पर गया-किऊल पैसेंजर रेलगाड़ी को रोक कर प्रदर्शन किया. उन्होंने लखीसराय रेलवे स्टेशन पर भी हंगामा किया. इधर, पटना, बेगूसराय और जमुई में भी प्रदर्शनकारी शिक्षक सड़कों पर उतरे और सड़क पर टायर जलाया. प्रदर्शनकारियों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में राज्य की जनता दल (युनाइटेड) सरकार के विरोध में नारे भी लगाए. गया, भागलपुर, सहरसा और मधेपुरा में भी हड़ताली शिक्षक सड़कों पर उतर आए और यातायात जाम कर दिया. बिहार राज्य नियोजित शिक्षक संघर्ष मोर्चा के संयोजक प्रदीप कुमार पप्पू ने राज्यव्यापी बंद को पूरी तरह सफल बताते हुए कहा कि इससे लोगों को तो परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, लेकिन यह कदम शिक्षकों की जायज मांग नहीं माने जाने के बाद उठाया गया है. 

IANS

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App