Monday, August 15, 2022

महाराष्ट्र : कोरोना मामलों में उछाल, 4205 नए मामले, तीन लोगों की मौत

मुंबई, देश में एक बार फिर कोरोना का डर मंडराने लगा है. जहां कोई राज्य इस समय सबसे अधिक प्रभावित नज़र आ रहा है तो वह है महाराष्ट्र. सियासी संकट के बीच कोरोना भी इन दिनों महाराष्ट्र को घेरे हुए है. बात करें बीते 24 घंटों की तो राज्य में बीते दिन महाराष्ट्र में 4205 नए मामले पाए गए. इस दौरान कुल तीन लोगों की मौत भी दर्ज़ की गई है.

इन राज्यों में बढ़ा कोरोना

देश में इस समय कोरोना के बढ़ते मामलों के लिए केरल, महाराष्ट्र, दिल्ली, उत्तरप्रदेश और कर्नाटक को जिम्मेदार माना जा रहा है. यही वो राज्य हैं जहां आज सबसे ज़्यादा कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं. जहां महाराष्ट्र में यह मामले काफी चौका देने वाले हैं. जहां रोज़ाना कोरोना के नए केसेस की संख्या हज़ारों में दर्ज़ की जा रही है. आज भी महाराष्ट्र में कोरोना के 4205 नए मामले देखे गए. बता दें, दिल्ली में बीते दिनों 2000 से अधिक मामले दर्ज़ किए गए थे.

कल आये इतने मामले

महाराष्ट्र में सियासी संकट के बीच कोरोना की रफ़्तार कल भी बढ़ी दिखाई दी. जहां गुरुवार को 24 घंटे में कोरोना 5,218 नए मामले सामने आए. इस दौरान राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 79,50,240 पर पहुंच गई. मरने वालों का आंकड़ा तो और भी ख़राब रहा. जहां कोरोना से अब तक कुल 1,47,893 लोग राज्य में जान गवा चुके हैं.

बूस्टर डोज पर विशेष ध्यान

आईसीएमआर और भारत बायोटेक के अध्ययन में विशेषज्ञों का कहना है कि कोवैक्सीन की बूस्टर खुराक कोरोना वायरस के डेल्टा स्वरूप के खिलाफ टीके का प्रभाव बढ़ाती है। अध्ययन में कहा गया है कि सीरियन हैमस्टर मॉडल (मनुष्य से जुड़ी बीमारियों का अध्ययन करने वाले पशु मॉडल) में डेल्टा स्वरूप के खिलाफ टीकाकरण की दो-तीन खुराक के बाद भारत बायोटेक के कोवैक्सीन से मिलने वाली सुरक्षात्मक क्षमता तथा ओमीक्रोन के स्वरूपों के खिलाफ इसके प्रभाव का अध्ययन किया गया। इस अध्ययन के नतीजे पिछलें दिनो बायोआरक्सिव में प्रकाशित हुए।

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

 

Latest news