नई दिल्लीः राजधानी दिल्ली में कार में कैद होकर दो बच्चों की मौत का मामला सामने आया है. दोनों बच्चे खेलकूद के दौरान कार में बंद हो गए. 9 घंटे तक कार में कैद रहने की वजह से दम घुटने के कारण मासूमों की मौत हो गई. पुलिस मामले की जांच कर रही है.
 
मृतक मासूमों का नाम राज (6) और सोनू (5) था. दोनों चचेरे भाई थे. सोनू के पिता राजू उस कार को कैब सर्विस में चलाते हैं. घटना वाले दिन राजू कैब को बिना लॉक किए सोने के लिए अपने कमरे में चले गए. उसके बाद दोनों बच्चे कार में घुसकर खेलने लगे.
 
बीवी ने छोड़ा साथ तो शख्स ने खुद को सांप से डंसवा कर मौत को गले लगा लिया, वो भी लाइव 
 
खेलकूद के दौरान उनकी कार लॉक हो गई. दरअसल राजू ने कार को लॉक कर दिया. उन्हें नहीं पता था कि कार के अंदर बच्चे खेल रहे हैं. घर के बाहर खड़ी कार पर किसी की नजर नहीं गई. काफी देर तक जब बच्चे नहीं मिले तो परिजनों ने उनकी तलाश शुरु की.
 
परिजनों को लगा कि बच्चों को किसी ने अगवा कर लिया है. उन्होंने फौरन पुलिस को इसकी सूचना दी. परिजनों ने जब बच्चों को ढूंढने के लिए वह कैब निकाली तो बच्चे कैब के अंदर बेहोश हालत में पड़े थे. अस्पताल में डॉक्टरों ने बच्चों को मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने बच्चों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाकर तफ्तीश शुरु कर दी है.