अलवरः यौन शोषण के आरोप में घिरे फलाहारी बाबा को राजस्थान पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया है. फलाहारी बाबा को राजस्थान के अलवर जिले से गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने बाबा के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 के तहत केस दर्ज किया है.
 
यौन शोषण के आरोप में फंसे फलाहारी बाबा खुद को बीमार बताकर अस्पताल में भर्ती थे. शनिवार सुबह पुलिस टीम वहां पहुंची और बाबा को अस्पताल से ही हिरासत में ले लिया. जिसके बाद बाबा के मेडिकल के लिए पुलिस उन्हें सरकारी अस्पताल लेकर पहुंची. गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के बिलासपुर की रहने वाली एक युवती ने फलाहारी बाबा पर यौन शोषण का आरोप लगाया है.
 
पीड़िता के परिजन फलाहारी बाबा के अनुयायी हैं. पीड़ित युवती जयपुर में रह कर लॉ की पढ़ाई कर रही थी. बाबा की सिफारिश पर सुप्रीम कोर्ट के एक वकील के यहां उसने अपनी इंटर्नशिप पूरी की. 7 अगस्त को वह बाबा का आशीर्वाद लेने के लिए अलवर स्थित दिव्य धाम पहुंची थी. रक्षाबंधन का दिन होने की वजह से फलाहारी बाबा ने उसे आश्रम में ही रुकने को कहा था.
 
पीड़िता से कहा गया कि रात में उसे गुप्त दिव्य मंत्र दिया जाएगा. उसे हाई कोर्ट का जज बनाने का लालच भी दिया गया. रात में बाबा ने पीड़िता से रेप करने की कोशिश की. किसी तरह पीड़िता वहां से बच निकली. लोकलाज के भय से वह चुप रही. बीते दिनों डेरा प्रमुख राम रहीम को सजा मिलने के बाद पीड़िता के अंदर हिम्मत आई.
 
उसने अपने भाई के साथ मिलकर फलाहारी बाबा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. बिलासपुर पुलिस ने एक जीरो एफआईआर दर्ज की और केस की जांच के लिए बुधवार को जांच अधिकारी अलवर पहुंचे थे. बीमारी का बहाना बनाकर फलाहारी बाबा अस्पताल में भर्ती हो गए थे. जिसके बाद शनिवार को पुलिस ने उन्हें अस्पताल से ही गिरफ्तार कर लिया.