मुंबई: मेट्रो सहित महाराष्ट्र के कई अहम ठिकानों पर सुरक्षा उपलब्ध कराने वाली सुरक्षा संस्था, महाराष्ट्र सेक्सयूरिटी फोर्स यानी MSF के कर्मचारी आज अचानक हड़ताल पर चले गए. जिसके कारण मेट्रो समेत कई जगहों की सुरक्षा व्यवस्था दांव पर लग गई है.
 
दऱअसल मुंबई मेट्रो की सुरक्षा की जिम्मेदारी का काम प्राइवेट एजेंसी को दिया गया है. इस एजेंसी की मांगे हैं कि उन्हें राज्य के गृह विभाग में शामिल करें.  यानी उन्हें भी पुलिस जैसा अधिकार व सुविधा मिले.
 
 
इसके अलावा उनके 500 कर्मचारियों को निकाला गया है उन्हें वापस लिया जाए . उनकी मांग है कि उन्हें 11 महीने का कॉन्ट्रैक्ट की जगह परमानेंट किया है और उनके साथ आम सेक्सयूरिटी गार्ड जैसा व्यवहार ना हो.
 
हालांकि महाराष्ट्र सेक्सयूरिटी फोर्स के कर्मचारियों के हड़ताल का असर मुंबई मेट्रो पर नही पड़ा है. इनकी जगह मुंबई मेट्रो पर मुंबई पुलिस के जवानों की तैनाती कर दी गई है.