जमशेदपुर. जमशेदपुर में छेड़खानी की घटना के विरोध में दो गुटों के बीच हुई भिड़ंत ने हिंसक रूप ले लिया है. गुस्साए लोगों ने मंगलवार को जमकर उत्पात मचाया, जिसके चलते धारा 144 लागू होने के बाद भी लोग सड़क पर उतर आए और पुलिस के साथ हाथापाई की.

इसके चलते कई गाड़ियों और दुकानों को तोड़ा दिया और आगज़नी भी हुई. प्रदर्शनकारियों ने जगह-जगह पर सड़कों पर जाम लगा दिया और पुलिस पर पथराव करने लगे, जिसके बाद पुलिस ने भीड़ को तितरबितर करने के लिए लाठीचार्ज किया. छेड़खानी की घटना सोमवार रात की है जब लड़की की तरफ से कुछ लोगों ने छेड़खानी का विरोध करते हुए आरोपी लड़के की पिटाई की. इसके बाद दोनों गुट आमने-सामने आ गए और हालात बेकाबू हो गए.

कोल्हन मंडल के आयुक्त अरुण ने कहा कि स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में है तथा कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाये रखने के लिए पर्याप्त सुरक्षा इंतजाम किये गए हैं. उन्होंने कहा, ‘हम स्थिति की निगरानी कर रहे हैं.’ उन्होंने कहा कि स्थिति के लिए जिम्मेदार किसी भी दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा. जमशेदपुर में सभी दुकानें एवं बाजार बंद हैं क्योंकि मंगलवार को साप्ताहिक बंदी होती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App