नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की निरंकारी कॉलोनी में तीन साल की बच्ची के साथ रेप का मामला सामने आया है. साउथ दिल्ली की निरंकारी कॉलोनी की रहने वाली बच्ची को दरिंदे ने हवस का शिकार बना डाला. इस मामले पर बच्ची के परिजनों ने पुलिस पर ढिलाई बरतने के आरोप लगाए हैं. बच्ची के परिजनों का कहना है कि पुलिस मामले को हल्के में ले रही है. यह मामला सोशल मीडिया पर एक शिकायत वायरल होने के बाद चर्चाओं में आया है.

बच्ची के पेरेंट्स ने सोशल मीडिया के जरिए अपना दुख बयान किया है. वीडियो वायरल होने के बाद डेप्युटी कमिश्नर ऑफ पुलिस असलम खान ने कहा कि बच्ची के पेरेंट्स की रिक्वेस्ट पर मंगलवार को केस क्राइम ब्रांच के पास ट्रांसफर कर दिया गया है. इसके साथ ही बच्ची के पेरेंट्स के बयान ले लिए गए हैं. एसीपी असलम खान ने कहा कि 5 सितंबर को पोक्सो एक्ट के तहत अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया था.

पुलिस ने कहा कि अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि यह अपराध नॉर्थवेस्ट दिल्ली की निरंकारी कॉलोनी के स्कूल में हुई या कहीं और. फिलहाल मामला क्राइम ब्रांच के पास रेफर कर दिया गया है. बता दें कि फेसबुक पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक बच्ची के पेरेंट्स अपनी बेटी के साथ हुई दरिंदगी के बारे में बता रहे हैं. इसमें वे पुलिस पर मामले में ढिलाई करने का आरोप लगा रहे हैं. वीडियो वायरल होने के बाद हरकत में आई पुलिस ने मामला क्राइम ब्रांच के पास ट्रांसफर कर दिया है.

स्वास्थ्य का हवाला दे उम्रकैद में छूट चाहता है नाबालिग से रेप का दोषी आसाराम, राजस्थान के राज्यपाल को भेजी दया याचिका

मुजफ्फरपुर बालिका आश्रय गृह केस में सुप्रीम कोर्ट का बिहार सरकार और CBI को नोटिस, ये है पूरा मामला