नई दिल्ली. आज दशहरा है. पाप पर पुण्य की विजय का दिन. असत्य पर सत्य के विजय का दिन. इसे सर्वसिद्ध मुहुर्त के रुप में भी जाना जाता है. क्योंक‌ि इस द‌िन मां दुर्गा पृथ्वी से अपने लोक के ल‌िए प्रस्‍थान करती हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इसी द‌िन भगवान श्री राम ने रावण का वध भी क‌िया था. इतना ही नहीं नवरात्र के द‌िन कुबेर ने स्वर्ण की वर्षा करके धरती वास‌ियों को धन धान्य से खुशहाल बनाया था. इसल‌िए दशहरे के द‌िन पूरे साल को खुशहाल और धन धान्य से परिपूर्ण बनाने के ल‌िए कुछ आसान से उपाय लोग सद‌ियों से करते आए हैं. इस दशहरे आप भी इन उपायों को आजमाकर अपनी ज‌िंदगी खुशहाल बना सकते हैं.
 
क्या हैं वो 10 उपाय हम आपको बताते हैं- 
 
1- दशहरे के द‌िन नीलकंठ पक्षी का दर्शन बहुत ही शुभ होता है. माना जाता है क‌ि इस द‌िन यह पक्षी द‌िखे तो आने वाला साल खुशहाल होता है.
 
2- दशहरा के द‌िन शमी के वृक्ष की पूजा करें. अगर संभव हो तो इस द‌िन अपने घर में शमी के पेड़ लगाएं और न‌ियम‌ित रुप से उसे दीप द‌िखाएं. ऐसा माना जाता है क‌ि दशहरा के द‌िन कुबेर ने राजा रघु को स्वर्ण मुद्राएं देने के ल‌िए शमी के पत्तों को सोने का बना द‌िया था. तभी से शमी को सोना देने वाला पेड़ माना जाता है.
 
 
3- रावण दहन के बाद बची हुई लकड़‌ियां म‌िल जाए तो उसे घर में लाकर किसी सुरक्ष‌ित जगह पर रख दें. इससे नकारात्मक घर में शक्‍त‌ियों का प्रवेश नहीं होता है. 
 
4- दशहरे के द‌िन लाल रंग के नए कपड़े या रुमाल से मां दुर्गा के चरणों को पोंछ कर इन्‍हें त‌िजोरी या अलमारी में रख दें. इससे घर में बरकत बनी रहती है.
 
5- दशहरे के द‌िन देवी यात्रा करती हैं इसल‌िए इस द‌िन को यात्रा के ल‌िए शुभ द‌िन माना जाता है. इस द‌िन संभव हो तो यात्रा करें भले ही वह छोटी दूरी की हो. इससे आपकी यात्रा में आने वाली बाधाएं दूर होती है. ज‌‌िन लोगों को व‌िदेश यात्रा की इच्छा है उन्‍हें यात्रा का योग मजबूत बनाने के ल‌िए यह उपाय आजमाना चाह‌िए.
 
6- विजय दशमी के दिन विवाह नहीं करना चाहिए, ये अच्छा नहीं होता. नव दंपत्ति का वैवाहिक जीवन कष्टमय हो जाता है. 
 
7- दशहरा के दिन किसी भी तरह का पाप कर्म करने से व्यक्ति के भविष्य पर कई गुना विपरीत प्रभाव पड़ता है. इस दिन किसी व्यक्ति पर अत्याचार ना करें. यह बहुत अशुभ माना जाता है.  
 
8- दशहरा के दिन वृक्ष काटना या वृक्षों को किसी भी तरीके से नुकसान पहुंचाना सामान्य दिनों के मुकाबले कई गुणा अशुभ होता है. यही नहीं ये स्वास्थ्य के लिए भी अशुभ माना जाता है. 
 
9- दशहरे के दिन किसी भी जीव को मारना भाग्य को ठोकर मारने के बराबर होता है. 
 
10- इस दिन महिला या लड़की से दुर्व्यवहार करने वाले पर मां दुर्गा और मां लक्ष्मी कुपित हो जाती हैं.