चीन. जहां अभी भारत में 4जी नेटवर्क पूरी तरह से पैर भी नहीं पसार पाया है वहीं चीन ने अपने करीब 100 शहरों में 5G टेलीकम्युनिकेशंस इक्विपमेंट का ट्रायल शुरू कर दिया है. 5जी नेटवर्क 4जी से 20 गुना ज्यादा तेज होने वाला है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इस तरह अब चीन नेक्स्ट जेनरेशन के सेल्युलर फोन सिस्टम्स के मामले में बाकी देशों से आगे निकल सकता हैं. एक न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक़ चीन मल्टीपल-एंटिना सिस्टम  के साथ-साथ 5G टेक्नोलॉजी को यूजर फ्रेंडली बनाने के लिए काम कर रहा है.
 
चीन की कोशिश है कि मोबाइल डाटा यूज करने की क्षमता को बढ़ाया जा सके. सब्सक्राइबर्स के मामले में चीन पहले ही  दुनिया का सबसे बड़ा टेलीकॉम मार्केट है.
 
कमाल की होगी 5जी की दुनिया
 
5 जी नेटवर्क पर आपको 1 सेकेंड में 2 जीबी तक की स्पीड मिल सकेगी.  इतना ही नहीं इस से मोबाइल ऐप्स के रिस्पॉन्स टाइम में भी कमी आएगी. अभी 4 जी नेटवर्क पर रिस्पॉन्स टाइम करीब करीब 10 सेकंड का होता है जो कि 5 जी पर 1 मिली सेकेंड या उससे भी कम का रह जाएगा. 
 
आसान शब्दों में 5जी नेटवर्क पर एक जीबी की फ़ाइल को आप 1 सेकंड में डाउनलोड कर सकेंगे. चीन घोषणा कर चुका है कि 2020 तक वह देश में 5G नेटवर्क सर्विस लॉन्च कर देगा.  
 
भारत में कब आएगा 5G?
 
हाल ही में टेलिकॉम सेक्रेटरी जेएस दीपक ने कहा था कि दुनिया में 5G टेक्नोलॉजी आने के साथ ही भारत में भी यह तकनीक आ जाएगी.  इसमें 3जी और 4जी जैसी देरी नहीं होने की बात कही गयी है. यह गौरतलब है कि दुनिया में 2जी टेक्नोलॉजी आने के 25 साल बाद यह तकनीक भारत में आई थी. इसी तरह 3जी 10 साल बाद और 4जी 5 साल की देरी से भारत में आया. 
 
यहां भी सबसे पहले आएगा 5जी नेटवर्क
 
फिलहाल दुनिया में सबसे तेज इंटरनेट कोरिया में देखने को मिलता है. चीन के अलावा यहां  5जी की सबसे पहले शुरुआत होने की उम्मीद है. इसके अलावा अमेरिका का वेरिजोन वायरलेस भी 5जी नेटवर्क की टेस्टिंग अगले साल से शुरू करने वाली है.