इटावा. रविवार की रात जम्मू-कश्मीर के बारामूला में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद नितिन का आज नम आंखों के साथ अंतिम संस्कार हुआ. नितिन ने अपने प्राण की परवाह न करते हुए आतंकियों के मंसूबे को नाकाम किया था.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
रविवार की रात बारामुला में सेना की 46 आरआर कैंप पर आतंकियों ने हमला किया, लेकिन नितिन के आगे उनकी एक न चली. नितिन घायल होने के बावजूद आतंकियों से लड़ते रहे, लेकिन ज्यादा खून बह जाने के कारण नितिन ने अस्पताल में दम तोड़ दिया.
 
मोर्चे पर तैनात नितिन के ऊपर आतंकियों ने ग्रेनेड फेंका था, जिसमें वे बुरी तरह से घायल हो गए थे लेकिन वे मोर्चे से हटे नहीं. लिहाजा आतंकियों को पीछे हटना पड़ा.
 
यूपी सरकार ने की 20 मुआवजे की घोषणा
नितिन की शहादत पर यूपी सरकार ने नितिन के परिजनों को 20 लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है. इसकी घोषणा करते हुए सपा के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने कहा कि नितिन के नाम पर एक पार्क भी खोला जाएगा.